किस्सा आठ करोड़ का... देखें क्या है?

 Mumbai
किस्सा आठ करोड़ का... देखें क्या है?
किस्सा आठ करोड़ का... देखें क्या है?
See all

मुंबई - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दिसंबर 2016 में किया गया महाराष्ट्र का दौरा पूर्वनियोजित था, लेकिन प्रधानमंत्री की यात्रा पर आया खर्च राज्य सरकार ने अाकस्मिक निधि से खर्च किया था। इन दोनों ही वाक्यों में विसंगति होने के बावजूद यह सत्य है। मुंबई में हुए विकास कार्य और उसके विज्ञापन पर राज्य सरकार ने करीब आठ करोड़ रुपए खर्च किए थे। विशेष बात यह रही कि यह रकम आकस्मिक निधि से इस्तेमाल की गई। जिसे मंजूरी दिलाने के लिए उसे अाकस्मिक खर्चे की श्रेणी में शामिल किया गया था। राज्य सरकार के लोक निर्माण विभाग के दस्तावेजों से यह जानकारी सामने आई है।

‘छत्रपति शिवाजी महाराज स्मारक के लिए जलपूजन कार्यक्रम, मुंबई शहरी परिवहन प्रकल्प के अंतर्गत मेट्रोलाइन उद्घाटन, शिवडी- न्हावा शेवा प्रकल्प और नए रेल मार्ग के लिए विज्ञापन पर आठ करोड़ रुपये देने का निर्णय लिया गया।’ महाराष्ट्र विधानमंडल के दोनों सभागृह में वित्त विभाग की तरफ से जारी किए गए अनुदान के संदर्भ में पुरक मांग में इसे दर्ज किया गया है। यह खर्च अाकस्मिक निधि की रकम से निकाले जाने की जरूरत थी। लोक निर्माण विभाग के मुताबिक यह खर्च आवश्यक था।

Loading Comments 

Related News from राजनीति