नहीं होगा ‘भरत मिलाप’


SHARE

मुंबई - शिवसेना और बीजेपी की युती टूटने के बाद मुंबई में बीएमसी चुनाव के लिए नए समीकरण बनने की उम्मीद थी, लेकिन यह रिश्ता जुड़ता नजर नहीं आ रहा है। रविवार की शाम मनसे के वरिष्ठ नेता बाला नांदगावकर शिवसेना के पास युती का प्रस्ताव लेकर मातोश्री पहुंचे थे।

सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक इस प्रस्ताव पर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सकारात्मकता भी दिखाई दिए, आसार लगाए जा रहे थे कि इन दोनों भाइयों के बीच बीएमसी चुनाव में युती हो सकती है। पर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने इससे पर्दा उठाते हुए कहा है कि उनके पास इस तरह का कोई भी प्रस्ताव नहीं आया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें