राज्यसभा में भी हो आरक्षण- रामदास आठवले

आरपीआई(A) अध्यक्ष और केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले ने लोकसभा की तर्ज पर राज्यसभा में भी आरक्षण की मांग की है

SHARE

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री और आरपीआई(A)के रामदास आठवले ने लोकसभा की तर्ज पर राज्यसभा में भी आरक्षण की मांग की है।  मंगलवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए रामदास आठवले ने कहा की वह  चाहते है की जिस तरह से लोकसभा की सीटों में पिछड़ों को आरक्षण दिया जाता है उसी की तर्ज पर राज्यसभा की सीटों में भी पिछड़ों को आरक्षण दिया जाए और उन्हे राजनीति की मुख्यधारा में आने का मौका मिले।  

क्या कहा रामदास आठवले ने

रामदास आठवले ने  कहा की " मैं चाहता हूं  की जिस तरह से देशभर में लोकसभा की सीटों के लिए अलग अलग जगह और सीट अलग अलग जातियों के लिए आरक्षित रखी जाती है ठिक उसी की तर्ज पर राज्यसभा की सीटों को भी अलग अलग राज्यो में अलग अलग जातियों के आरक्षित रखा जाए, पिछड़ों के लिए राज्यसभा में सीट आरक्षित रखने से उन्हे राजनीति की मुख्य धारा में आने का मौका मिलेगा, इसके साथ ही मै चाहता हूं की राज्यसभा के साथ साथ राज्यों के विधान परिषद में पिछड़ों के लिए सीटों का आरक्षित किया जाए"

जाति-आधारित गणना का समर्थन

रामदास आठवले ने जाति आधारित गणना का भी समर्थन किया है। उन्होने कहा की यह एक भ्रम है की जाति के आधार पर जनगणना करने से माहौल खराब होगा।  जिता के आधार पर जनगणना करने से देश में पिछडों की सही संख्या सामने आएगी और उन्हे उतना सही तरीके से समाज में न्याय मिल पाएगा।  

यह भी पढ़े- रामदास अठावले ने बीजेपी के सामने रखी 10 सीटों की मांग

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

राज्यसभा में भी हो आरक्षण- रामदास आठवले
00:00
00:00