Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
43,43,727
Recovered:
36,09,796
Deaths:
65,284
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
55,601
3,028
Maharashtra
6,39,075
62,194

जल्द बनेगी सरकार – संजय राउत

राउत ने कहा कि उन्होंने अन्य समस्याओं के बीच कृषि समस्याओं पर चर्चा करने के लिए पवार से मुलाकात की और विश्वास व्यक्त किया कि जल्द ही उनकी जगह एक सरकार होगी।

जल्द बनेगी सरकार – संजय राउत
SHARES

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी यानी की एनसीपी  के प्रमुख शरद पवार ने कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की जसके बाद  शिवसेना सांसद संजय राउत ने सोमवार शाम को दिल्ली में पवार के घर जाकर उनसे मुलाकात की।मीडिया से बात करते हुए, राउत ने कहा कि उन्होंने अन्य समस्याओं के बीच कृषि समस्याओं पर चर्चा करने के लिए पवार से मुलाकात की और विश्वास व्यक्त किया कि जल्द ही उनकी जगह एक सरकार होगी।

राष्ट्रपति शासन शिवसेना की वजह से नहीं
शिवसेना सांसद ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर हमला करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन उनकी पार्टी की वजह से नहीं लागू हुआ। उन्होने कहा की" सरकार बनाने की ज़िम्मेदारी हमारी नहीं थी, उस ज़िम्मेदारी को निभाने वाला भाग गया था। हालांकि, मुझे पूरा विश्वास है कि जल्द ही हमारी सरकार बन जाएगी। ”

महाराष्ट्र में सरकार के गठन पर चर्चा नहीं
राउत ने आगे बताया कि उन्होंने पवार को नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने और महाराष्ट्र में किसानों की दुर्दशा पर चर्चा करने के लिए कहा। इससे पहले दिन में, सोनिया गांधी के साथ अपनी 45 मिनट की लंबी बैठक के बाद, पवार ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र में सरकार के गठन पर चर्चा नहीं की।

दिल्ली में मीडिया से बात करते हुए शरद पवार ने कहा की " मैंने कांग्रेस अध्यक्ष के साथ एक बैठक की थी और वहां एके एंटनी उपस्थित थे। हमने स्थिति और संख्याओं पर चर्चा की। मैंने अभी उन्हें महाराष्ट्र की राजनीतिक स्थिति के बारे में जानकारी दी। हमने अन्य मुद्दों पर चर्चा नहीं की" । पवार की बैठक पुणे में एनसीपी की कोर कमेटी द्वारा तय किए जाने के एक दिन बाद कहा कि राष्ट्रपति शासन समाप्त हो जाना चाहिए और एक वैकल्पिक सरकार का गठन किया जाना चाहिए।

एनसीपी प्रमुख संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन दिल्ली में थे और शाम को सोनिया गांधी से मिले। महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए दोनों (शरद पवार और सोनिया गांधी) के बीच बैठक को महत्वपूर्ण बताया गया था।हालांकि, पवार ने स्पष्ट रूप से कहा कि उन्होंने सोनिया गांधी के साथ अपनी बैठक में शिवसेना के साथ संभावित गठबंधन के मुद्दे पर चर्चा नहीं की।

यह भी पढ़े- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू- कैसे होता राज्य में काम!

Read this story in English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें