स्थायी समिति अध्यक्ष पद पर किसकी निगाह..?

 Mumbai
स्थायी समिति अध्यक्ष पद पर किसकी निगाह..?

मुंबई - देश की सबसे अमीर महानगरपालिका बीएमसी की तिजोरी किसके हाथ में जाएगी? इस प्रश्न का उत्तर अभी तक नहीं मिल पाया है। बीएमसी और शिवसेना इस किले पर कब्जा जमाने के लिए पूरी कोशिश कर रही हैं। सबसे बड़ा किला फतह करने के लिए स्थायी समिति के अध्यक्ष पद पर दोनों की निगाहें लगी हुई हैं।
बताया जा रहा है कि बीजेपी शिवसेना को सत्ता में साथ देकर उसका महापौर इस शर्त पर बना सकती है कि उसे स्थायी समिति अध्यक्ष का पद मिले। ऐसी रणनीति बीजेपी के नेताओं ने बनाई है। मंगलवार को प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक के बाद शिवसेना के लिए राहत दिखाई दे रही है। पीएम के आदेश का पालन करते हुए शिवसेना के साथ गठबंधन को लेकर रास्ता खुला रखा गया है, साथ ही सम्मानजनक परिस्थिति में गठबंधन पर बीजेपी तटस्थ है।

दूसरी तरफ शिवसेना नगरसेवकों ने स्थायी समिति अध्यक्षपद के लिए फिल्डिंग लगा रखी है। यशवंत जाधव को सभागृह नेता का पद मिला है। अब शिवसेना के अनेक वरिष्ठ नगरसेवकों की निगाह महापौर और स्थायी समिति अध्यक्ष पद पर लगी है। शिवसेना की महिला नगरसेवक तृष्णा विश्वासराव को सभागृह नेता पद की जवाबदारी देने की संभावना थी, लेकिन चुनाव में हार से उनका सपना टूट गया। स्थायी समिति अध्यक्ष पद पर अबतक एक बार भी महिला नगरसेविका को मौका नहीं दिया गया है। कहा जा रहा है कि इस बार शुभदा गुडेकर, राजुल पटेल, विशाखा राऊत, श्रद्धा जाधव, किशोरी पेडणेकर स्थायी अध्य़क्ष पद के लिए अपने तरीके से मोर्चे बंदी कर रही हैं। जिससे इस पद को लेकर जहां शिवसेना में कड़ी प्रतिस्पर्धा है वहीं बीजेपी की निगाह भी इसपर लगी है।

Loading Comments