महारेरा ने दिया शॉक, नियमों का उल्लंघन करने पर पिरामिल रियल्टी पर 50 लाख का जुर्माना


  • महारेरा ने दिया शॉक, नियमों का उल्लंघन करने पर पिरामिल रियल्टी पर 50 लाख का जुर्माना
  • महारेरा ने दिया शॉक, नियमों का उल्लंघन करने पर पिरामिल रियल्टी पर 50 लाख का जुर्माना
SHARE

महारेरा का उल्लंघन करने वाले बिल्डरों पर कार्रवाई की प्रक्रिया चालू है। इसी कड़ी में नियमों का उल्लंघन करने पर पिरामिल रियल्टी पर महारेरा ने 50 लाख रूपये का जुर्माना ठोका है। बताया जाता है कि महारेरा द्वारा अब तक किसी बिल्डर पर लगाया गया यह सबसे बड़ा जुर्माना है।

महारेरा ने लगाया जुर्माना 
पिरामिल रियल्टी, महालक्ष्मी में पिरामिल महालक्ष्मी-साउथ मुंबई नाम से एक परियोजना का कार्य कर रहा है। इस परियोजना को लेकर पिरामिल ने तीन पन्नों का विज्ञापन एक न्यूज़ पेपर में छपवाया था। जिसे लेकर महारेरा ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए बिल्डर के खिलाफ कार्रवाई की।


इसीलिए लगाया जुर्माना 
महारेरा के मुताबिक बिल्डर ने समाचार पेपर के दूसरे पेज पर जो विज्ञापन छापा था उसमें महारेरा का रजिस्ट्रेशन नंबर बेहद ही छोटे अक्षरों में लिखा था जबकि रजिस्ट्रेशन नंबरों को बड़े और स्पष्ट अक्षर में लिखना अनिवार्य है। यही नहीं इस विज्ञापन को महरेरा की वेबसाइट पर भी नहीं दर्ज कराया गया था। महारेरा के अनुसार हर प्रोजेक्ट के विज्ञापन को महारेरा की वेबसाइट में दर्ज कराना अनिवार्य है। इसे देखते हुए महारेरा के अध्यक्ष गौतम चटर्जी ने गुरुवार को अपने अंतिम निर्णय में पिरामिल रियल्टी पर 50 लाख रूपये का दंड लगाया।

आपको बता दें कि अब तक ऐसे बेईमान बिल्डरों के खिलाफ महारेरा 2 से 10 लाख रूपये तक का ही दंड लगाती रही है जो कि बिल्डरों के लिए चुकाना कोई बड़ी बात नहीं है। जुर्माने की राशि में बढ़ोत्तरी करने के लिए ग्राहक संगठन कई दिनों से मांग कर रहा था। महारेरा का यह कदम बिल्डरों के लिए बहुत बड़ा सबक साबित हो सकता है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें