Advertisement

हाजी अली दरगाह का नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज

दुनिया में सबसे अधिक विजिटिंग तीर्थस्थलों में से एक

हाजी अली दरगाह का नाम  वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज
SHARES

हाजी अली दरगाह ( HAJI ALI DARGAH)  विश्व का पहला दरगाह ट्रस्ट है जिसे वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स लंदन में जगह दी गई है।  हाजी अली दरगाह ट्रस्ट को वर्ल्ड बुक्स ऑफ रिकॉर्ड्स लंदन द्वारा सूचीबद्ध किया गया हैजो दुनिया में सबसे अधिक विजिटिंग तीर्थस्थलों में से एक है और 552 साल पुराना इंडो-इस्लामिक(indo-islamic) आर्किटेक्चर है।

सर्टिफिकेट 15-02-2020 को हाजी अली दरगाह ट्रस्ट के अब्दुल सत्तार मर्चेंट (चेयरमैन और मैनेजिंग ट्रस्टी) को दिया गया था, जो WBR के वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्ड एडवोकेट संतोष शुक्ला की आधिकारिक टीम द्वारा किया गया था।इस मौके पर पर  वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के उपाध्यक्ष उस्मान खान सहीत कई और लोग मौजूद थे। 

अरब सागर में स्थित हाजीअली दरगाह को नया रंग-रुप देने के लिए 40 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इस संबंध में बुधवार को मंत्रालय में प्रदेश के बंदरगाह मंत्री तथा मुंबई के पालक मंत्री असलम शेख की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में हाजी अली दरगाह के नवीनीकरण और सौंदर्यीकरण के प्रारूप के संबंध में प्रस्तुतिकरण दी गई।

असलम शेख ने कहा कि हाजी अली दरगाह एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है। यहां पर प्रतिदिन देश और विदेश से बड़े पैमाने पर श्रद्धालु आते हैं। इसलिए हाजी अली दरगाह का नवीनीकरण और सौंदर्यीकरण होना आवश्यक है। इसलिए जरूरी सभी मंजूरी तत्काल ली जाए। 

क्या क्या होंगे बदलाव 

हाजी अली दरगाह की ओर जान वाली मुख्य सड़क से दरगाह तक के मार्ग का नवीनीकरण

मुख्य मार्ग पर भव्य व दिव्य बुलंद दरवाजा का निर्माण 

 हाजी अली दरगाह के मुख्य द्वार का भी सौंदर्यीकरण 

श्रद्धालुओं के लिए विशेष सुविधाएं और वीजिटर प्लाजा 

 मुगल गार्डन का निर्माण

मुगल गार्डन में प्राचीन काल की याद दिलाने वाली बेंच और लाइट सिस्टम 

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement