• मुंबई की इन नारी शक्तियों को राष्ट्रपति ने दिया "फर्स्ट लेडी" सम्मान
SHARE

खेल, कला, साहित्य, उद्योग, शिक्षण आदि क्षेत्रों में कीर्तिमान स्थापित करने वाली देश की 113 महिलाओं को महिला व बाल विकास मंत्रालय की तरफ से दिल्ली में “फर्स्ट लेडी” सम्मान से सम्मानित किया गया। इन महिलाओं को यह सम्मान दिया 20 जनवरी को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने। इन 113 महिलाओं में से 15 महिलाएं महाराष्ट्र के अन्य जिलों से हैं जबकि 7 महिलाएं मुंबई से हैं।


सेनेटरी बैंक की शुरुआत

मुंबई की सातों महिलाओं में से एक हैं वर्सोवा की महिला विधायक भारती लवेकर। भारती लवेकर ने महिलाओं को सेनेटरी पैड को लेकर महिलाओं को जागरूक तो किया ही साथ ही वर्सोवा में सेनेटरी बैंक की शुरुआत भी की, और अब इनका लक्ष्य पूरे भारत में सेनेटरी बैंक शुरुआत करने का है। लवेकर ने 21 अप्रैल के दिन वर्सोवा इलाके में सेनिटरी नैपकिन एटीएम और डिस्पोजल मशीन योजना की शुरुआत की थी। 'ती फाउंडेशन' के सहयोग से शुरू हुए इस 'सेनेटरी नैपकिन पेड बैंक' की शुरुआत अब पूरे देश भर में की जाएगी।


इन नारी शक्तियों को भी किया गया सम्मानित 

भारती लवेकर के अलावा भारतीय महिला क्रिकेट एकदिवसीय मैच में सबसे पहली कप्तान मुंबई की डायना एडलजी, देश में पहली कार ड्राइविंग प्रशिक्षण संस्था खोलने वाली मुंबई की स्नेहा कामत भी शामिल हैं। इसके अलावा स्वाति परिमल जिन्होंने एसोसिएटेड चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड  इंडस्ट्रीज ऑफ इंडिया की पहली महिला अध्यक्ष बनने का गौरव मिला। देश में सबसे पहले टेस्ट ट्यूब बेबी की डिलीवरी करवाने वाली डॉक्टर इंदिरा हिंदुजा, नेत्रहीनों के लिए देश में पहली लाइफ लाइफ स्टाइल की मासिक पत्रिका जो कि ब्रेल लिपि में थी निकालने वाली उपासना मकाती और डिजिटल आर्ट को भारत में सबसे पहले लाने वाली 18 वर्षीय तारा को भी “फर्स्ट लेडी” सम्मान से सम्मानित किया गया। ये सभी मुंबई की ही रहने वाली हैं।






संबंधित विषय
ताजा ख़बरें