भूखे,गरीब लोगों को पेट भर खाना खिला रहा है यह चर्च


SHARE

मुलुंड के सीरियाई क्रिश्चन चर्च की एक पहल इस समय काफी चर्चा में है। यह चर्च गरीब बेघरों को घर का खाना मुहैया कराता है। इसके लिए चर्च परिसर में ही एक रेफ्रिजरेटर और माइक्रोवेव ओवन रखा हुआ है। भूखे और जरुरत मंद लोग आकर यहां से अपना खाना ले जाते हैं। इस पहल से घर का बचा हुआ खाना भी यूज हो जाता है और भूखे लोगों का पेट भी भर जाता है।

अंग्रेजी अख़बार टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबर के अनुसार उत्तरी मुंबई के मर थोमा चर्च के रहने वाले लगभग 150 मलयाली परिवारों ने 1 जनवरी से घर के बचे हुए खाने को सिल्वर फॉइल पेपर में पैक करके चर्च में रखने लगे। धीरे-धीरे यह बात फैल गयी और गरीब जरुरत मंद भूखे लोग यहां आकर खाना ले जाने लगे। अब तो यहां जमा खाने की मात्रा में भी वृद्धि होने लगी।

यही नहीं इस सेवा भाव से स्थानीय लोग इतने प्रभावित हुए कि भूखे लोगों के लिए लोग नए-नए व्यंजन भी बना कर भी दे जाते हैं। खाने की बढ़ती मात्रा को देखते हुए चर्च परिसर में ही एक माइक्रो ओवन और फ्रिज रखा गया है उसी में यह खाना जमा होता है।चर्च में तैनात सुरक्षाकर्मी को लोग अपना खाना दे देते हैं और वो उसे फ्रिज में रख देता है।

टीओआई आगे लिखता है कि चर्च के पादरी इयापेन ने ही के अनुसार सभी को पेट भोजन करने का अधिकार है। किसी को भी भूखे नहीं रहना चाहिए। इयापेन बताते हैं कि सबसे पहले इसकी शुरुआत पादरी गीवर्गीज़ मार थिओडोसियस ने की थी।


स्थानीय महिला निवासी शीला के अनुसार कई भूखे गरीब लोगों को घर का खाना नसीब नहीं होता। जब इसकी शुरुआत हुई तो मुझे यह काफी पसंद आया। इससे घर के खाने का उपयोग भी हो जाता है और लोगों को खाना भी मिल जाता है।

 

संबंधित विषय