2006 मुंबई ट्रेन ब्लास्ट की 13वीं बरसी, हादसे में मारे गए थे 209 लोग

माहिम स्टेशन पर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे लोग

SHARE

11  जुलाई 2006 को पूरे मुंबई में  एक सन्नाटा सा फैल गया था।   13 साल बाद भीइस दिन के घाव अभी भी गीले हैं। पहला विस्फोट 11 जुलाई, 2006 को शाम बजकर 24 मिनट पर मुंबई लोकल स्टेशन में हुआ। धमाके से पूरे मुंबई में सन्नाटा छा गया। 11 मिनट के भीतर, घटना के तुरंत बाद सात विस्फोट किए गए और मुंबईकरों के पैरों तले जमीन खिसक गई।  इस हादसे में 209 लोग मारे गए।  विस्फोट पश्चिम रेलवे के माहिम से बोरिवली स्टेशन के बीच हुए।

इस हमले की प्रारंभिक जांच में, यह पाया गया कि बम प्रथम श्रेणी के डिब्बों में रखा गया था। इसमें आरडीएक्स और अमोनियम नाइट्रेट का उपयोग किया गया था।विस्फोटों के 10 दिनों के भीतर, आतंकवादी आतंकवादियों तक पहुंच गए और 20 जुलाई और अक्टूबर 2006 के बीचएटीएस ने कई आतंकवादियों को गिरफ्तार किया। आईएसआई ने आतंकवादी संगठन लश्कर--तैयबा की मदद से ये ब्लास्ट करवाया था।  

श्रद्धांजलि देंगे लोग

इस घटना के 13 साल पूरे होने पर  भाजपा नेता किरीट सोमैया ने लोगों से अपील की है कि धमाकों में जान गंवाने वाले सैकड़ों लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करें। गुरुवार सुबह 11 बजे माहिम रेलवे स्टेशन के पास पश्चिमी भाग में एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

संबंधित विषय