Advertisement

Mumbai nightlife : सरकार ने दी मंजूरी, 27 जनवरी से अब रात भर खुले रहेंगे दुकानें और मॉल्स

राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे और गृह मंत्री अनिल देशमुख एक साथ आकर पत्रकारों से रूबरू हुए। आदित्य ठाकरे ने बताया कि नई नीति 27 जनवरी लागू से होगी। अब मुंबईकर भी 24 घंटे शॉपिंग, मूवी और सैर-सपाटे सहित खाने पीने का मजा उठा सकेंगे।

Mumbai nightlife : सरकार ने दी मंजूरी, 27 जनवरी से अब रात भर खुले रहेंगे दुकानें और मॉल्स
SHARES

राज्य सरकार ने बुधवार को मुंबई में नाईट लाइफ शुरू करने के लिए मॉल, सिनेमाघर और दुकानों को 24 घंटे खोलने की नीति को मंजूरी दे दी। राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे और गृह मंत्री अनिल देशमुख एक साथ आकर पत्रकारों से रूबरू हुए। आदित्य ठाकरे ने बताया कि नई नीति 27 जनवरी लागू से होगी। अब मुंबईकर भी  24 घंटे शॉपिंग, मूवी और सैर-सपाटे सहित खाने पीने का मजा उठा सकेंगे।

क्या कहा आदित्य ठाकरे ने?

मंत्रालय में पत्रकारों से मुखातिब होते हुए आदित्य ठाकरे ने कहा कि, मुंबई जैसे शहर में कर्फ्यू जैसी स्थिति ठीक नहीं है। उन्होंने कहा इस फैसले से राजस्व और रोजगार बढ़ाने में मदद मिलेगी। यही नहीं उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है, मॉल और खाने-पीने की दुकानों को रात में खोलना बाध्यकारी नहीं है, जो लोग मानते हैं कि रात भर दुकानों को खोले रखने से अच्छा बिजनस होगा, वे ही इस पर अमल करेंगे।'

पर्यटन मंत्री ने कहा, 'मुंबई शहर 24 घंटे और सातों दिन चलती है। यहां कई लोग रात में भी काम करते हैं। पयर्टक भी घूमते हैं लेकिन वे खाना खाने कहां जाए?

सुरक्षा को लेकर उन्होंने कहा, मॉल और मिल परिसर में सुरक्षा और सीसीटीवी की व्यवस्था होगी और सभी को लाइसेंस लेना होगा। अगर प्रतिष्ठान अधिक पुलिस सुरक्षा की जरूरत महसूस करेंगे तो उन्हें इसके लिए भुगतान करना होगा।

पढ़ें: 26 जनवरी से चौबीसों घंटे खुली रहेंगी दुकानें

पुलिस पर दबाव बढ़ने की बात पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि, नाईट लाइफ से पुलिस पर यह दबाव नहीं बढ़ेगा, पुलिस रात 1:30 बजे दुकान बंद हैं या नहीं इस बात पर ध्यान देने के बजाय अब वे कानून व्यवस्था कायम रखने पर भी ध्यान केंद्रित कर सकेंगे।

हालांकि शराब परोसने के नियम पर आदित्य ने स्पष्ट किया कि, आबकारी नियमों को नहीं छुआ गया है और पब और बार पहले की तरह ही रात के डेढ़ बजे  बंद हों जाएंगे।  

यही नहीं उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि, अगर कचरे का प्रबंधन ठीक ढंग से नहीं होता है, आवाज की सीमा और कानून व्यवस्था के नियमों का उल्लंघन हुआ तो ऐसे प्रतिष्ठनों पर आजीवन प्रतिबंध लगाया जा सकता है।’ 

बीजेपी के कुछ नेताओं द्वारा आलोचना करने के सवाल पर उन्होंने कहा, 'महाराष्ट्र विकास आघाड़ी’ की सरकार आम लोगों की इच्छाओं को पूरा करने के लिए काम कर रही है।  

पढ़ें: नाईट लाइफ से रेप को बढ़ावा मिलेगा - बीजेपी नेता

Read this story in English
संबंधित विषय
Advertisement