Advertisement

कोरोना काल में BEST को 1 हजार 29 करोड़ रुपये का हुआ नुकसान

लॉकडाउन के दौरान बेस्ट ने टिकट की बिक्री से केवल 171 करोड़ रुपये कमाए। जबकि उसका खर्च 1,201.91 करोड़ रुपये हुआ।

कोरोना काल में BEST को 1 हजार 29 करोड़ रुपये का हुआ नुकसान
SHARES

कोरोना वायरस (Coronavirus) के आने के बाद मुंबई में तालाबंदी यानी लॉकडाउन (lockdown) लगाई गई। इस लॉकडाउन के कारण, सभी परिवहन सेवाओं, विशेष रूप से मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल सेवा (local train) को बंद कर दिया गया। हालांकि BEST की परिवहन सेवा जारी रखी गई थी।

हालांकि इस लॉकडाउन के दौरान BEST को बड़ा आर्थिक नुकसान होने की खबर है। गौरतलब है कि पिछले साल ही यात्रियों की संख्या में गिरावट के लिए टिकट की कीमतों में कमी की गई थी। हालांकि, BEST पर वित्तीय संकट इस वर्ष लॉकडाउन द्वारा बढ़ा दिया गया है।

लॉकडाउन के दौरान बेस्ट ने टिकट की बिक्री से केवल 171 करोड़ रुपये कमाए। जबकि उसका खर्च 1,201.91 करोड़ रुपये हुआ। अप्रैल से अक्टूबर के बीच, BEST का राजकोषीय घाटा 1,029 करोड़ रुपये का था। बीएमसी से प्राप्त 720 करोड़ रुपये के अनुदान के बाद भी, आय और व्यय में 312.37 करोड़ रुपये का अंतर आने के बाद 200 करोड़ रुपये फिर कर्ज लिया गया।BEST ने BMC से प्राप्त अनुदान राशि को अपने कर्मचारियों के वेतन पर अधिक खर्च किया।

BEST ने इन 8 महीनों में वेतन पर 736 करोड़ 9 लाख रुपये खर्च किए हैं। बीएमसी ने पिछले कुछ वर्षों में कुल मिला कर BEST को 2,500 करोड़ रुपये का अनुदान दे चुकी है। हालांकि, BMC की स्थायी समिति ने BEST से इस राशि के व्यय का विवरण प्रस्तुत करने को कहा।  जिसके बाद, BEST ने अप्रैल से लेकर अक्टूबर 2020 तक 7 महीनों के खर्च का विवरण प्रस्तुत किया है।

बेस्ट ने यात्रीयों से 167.92 करोड़ रुपये और अन्य मदों से 171.92 करोड़ रुपये कमाए। अप्रैल से अक्टूबर तक BEST ने BMC से 891.92 करोड़ रुपये प्राप्त किए। BEST ने 312.37 करोड़ रुपये की कमी को कवर करने के लिए 200 करोड़ रुपये का ऋण लिया है।

इन मदों में हुआ खर्च

  • वेतन पर खर्च - 736 करोड़ 9 लाख
  • फ्यूल, CNG पर खर्च -147.92 करोड़
  • प्रवासी कर, पोषण अधिभार, रोड टैक्स- 3 करोड़ 51 लाख
  • आपूर्तिकर्ताओं को प्रदान - 115 करोड़ 60 लाख
  • किराए पर बसों के लिए - 45 करोड़ 67 लाख
  • नगर निगम संपत्ति कर - 7 करोड़ 49 लाख
  • सेवा और सेवानिवृत्त कर्मचारियों पर अन्य खर्च - 82 करोड़ 71 लाख
  • ऋण चुकाने - 62.91 करोड
Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय