रक्षाबंधन को बेस्ट का झटका, मुंबईकर बेहाल!

 Mumbai
रक्षाबंधन को बेस्ट का झटका, मुंबईकर बेहाल!

रक्षाबंधन के दिन बेस्ट के बंद से लोग अच्छे खासे परेशान हैं। लगभग 36 हजार कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से बेस्ट के 500 मार्ग बंद पड़े हैं। जिसकी वजह से यात्रियों का हाल बेहाल है।

रविवार की दोपहर मुख्यमंत्री, महापौर समेत बेस्ट कृति समिति के बीच बैठक संपन्न हुई। पर यह मीटिंग फ्लॉप साबित हुई। इस बैठक से कोई भी समाधान ना निकलने के चलते कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने का निश्चय किया।  

जबतक बीएमसी आयुक्त लिखित में आश्वासन नहीं देते हैं, तबतक हड़ताल जारी रहेगी। इस तरह की भूमिका बेस्ट कृति समिति ने स्पष्ट की हैं। बीते कुछ दिनों से बेस्ट के कर्मचारी वड़ाला में भूख हड़ताल पर बैठे थे। लेकिन गुरुवार को भूख हड़ताल को पीछे ले लिया गया था। जिसके बाद कृति समिति ने कहा था कि अगर 6 अगस्त तक कोई रास्ता नहीं निकाला गया तो उनकी हड़ताल फिर शुरू हो जाएगी। और वैसा ही हुआ।

महापौर विश्वनाथ महाडेश्वर ने बेस्ट कर्मचारियों से विनती की थी कि वे हड़ताल पर ना जाएं। उन्होंने आश्वासन भी दिया था कि 10 अगस्त तक वेतन दे दी जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा था कि मैं बेस्ट को खराब परिस्थित से बाहर लाने के प्रयास कर रहा हूं।

बेस्ट कर्मचारी भी बीएमसी के ही कर्मचारी हैं। जिसके चलते बेस्ट कर्मचारियों की जवाबदारी बीएमसी को लेनी चाहिए। बीते कई दिनों से मांगों को लेकर हम लड़ रहे हैं। कर्मचारियों के हालात बदतर हैं, खाने के लिए पैसे नहीं है। बीएमसी आयुक्त हमें लिखित में आश्वासन दें।

–शंशाक राव, नेती, कृति समिति

Loading Comments