नहीं बढ़ेगा मेट्रो का किराया !


SHARE

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मेट्रो प्रशासन को तगड़ा झटका देते हुए मेट्रो की किराए में बढ़ोत्तरी को खारीज कर दिया है। साथ ही कोर्ट ने आदेश दिया है की इस मामले में राज्य सरकार एक समिति बनाए जो आनेवाली तीन महीनों में मेट्रो के किराए को निर्धारित कर सके। ज्ञात हो की कोर्ट में साल २०१५ में मेट्रो में किराए बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव को रद्द कर दिया था।

एसी लोकल का किराया फर्स्ट क्लास के किराये से होगा कम?

फिलहाल वर्तमान किराया ही रहेगा लागू
कोर्ट ने साफ किया की फिलहाल मेट्रो में वर्तमान किराया ही लागू रहेगा, साथ ही इस मामले में निर्धारण समिति और मुंबई मेट्रो प्राइवेट लिमिटेड को एक रिपोर्ट भी तैयार करने को कहा है। वर्तमान किराया १० रुपये से लेकर ४० रुपये के बीच में है।

कितना बढ़ाना था किराया
मुंबई वन प्राईवेट लिमिटेड ने सिंगल यात्रा की दरें 5, 10, 20, 25, 35 और 45 रुपए करने की योजना बनाई है। तो वही वापसी की दरें 10, 20,22,22.50 और 35 निर्धारित किया है। जिसे साल २०१५ में कोर्ट ने इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया था।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें