Advertisement

मानसून में अब बेरोकटोक दौड़ेगी सेन्ट्रल रेलवे


मानसून में अब बेरोकटोक दौड़ेगी सेन्ट्रल रेलवे
SHARES

मध्य रेलवे (सीआर) प्रशासन ने इस साल बरसात के मौसम में बारिश से अपनी सेवाओं को प्रभावित नहीं होने देने का निर्णय लिया है। इस दिशा में एक ठोस कदम उठाते हुए सीआर ने अपने क्षेत्राधिकार में नाले साफ करने का एक अभियान शुरू किया है।

अक्सर यह देखा जाता है कि शहर में निचले इलाकों में बरसात का पानी जमा हो जाता है जिससे रेलवे की सेवाओं पर बुरा असर पड़ता है। कई बार तो सिग्नल यंत्र ही बारिश के कारण बिगड़ जाता है जिससे रेलवे की सेवा बाधित होती है। इस समस्या से निपटने के लिए सीआर ने अपने ट्रैक के 950 स्थानों पर डिजिटल एम-सिग्नल स्थापित करने का भी निर्णय लिया है।जमा पानी को निकालने के लिए सीआर ने मस्जिद, सायन, कुर्ला, विक्रोली, घाटकोपर, ठाणे, मुम्ब्रा, डोंबिवली, शिवड़ी, वडाला, चुनाभट्टी, तिलक नगर, चेंबुर आदि सहित 20 स्थानों पर पंप लगाए हैं।

सीआर के अंतर्गत करीब 9 0,000 मीटर तक के नालों की गाद निकाली जा चुकी है और 76 भूमिगत नालों को साफ कर दिया गया है। यही नहीं भूस्खलन की घटनाओं से बचा जा सके इसके लिए रेलवे ने करीब 604 स्थानों पर जाली भी लगाया है ताकि जमीन को मजबूती मिल सके। सीआर ने अपने मोटरमैन, गार्ड और अन्य कर्मचारियों को मौसम से संबंधित एक एक पुस्तिका जारी की है जो उन्हें समुद्र में आने वाले हाईटाइड के साथ-साथ मौसम रिपोर्टों की जानकरी भी देगा। सीआर ने किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए एक विशेष नियंत्रण कक्ष भी बनाया है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें