मुंबई के हाईवे अब एमएमआरडीए की देखरेख में

 Mumbai
मुंबई के हाईवे अब एमएमआरडीए की देखरेख में
मुंबई के हाईवे अब एमएमआरडीए की देखरेख में
See all

लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) ने गुरुवार को वेस्टर्न और ईस्टर्न एक्सप्रेस वे के कब्जे को अगले पांच वर्षों के लिए मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) को सौंपने का आदेश जारी कर दिया है। पीडब्लूडी जो बरसात के मौसम में इन एक्सप्रेसवे की खराब स्थिति के लिए गंभीर आलोचना का सामना कर रही थी, अब इन्हें एमएमआरडीए सौंपकर गड्ढे की टेंशन से राहत मिलेगी।

मुंबई शहर में मेट्रो रेल अपना नेटवर्क धीरे धीरे बढ़ा रही है। पश्चिमी एक्सप्रेस राजमार्ग पर अंधेरी से दहिसर के बीच मेट्रो रेल का काम चल रहा है। ईस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे पर यही स्थिति है। इसलिए, एमएमआरडीए ने राज्य सरकार को इन सड़कों को पांच साल तक सौंपने के लिए मांग की है। विकास प्राधिकरण की मांग को पूरा करने के लिए, पीडब्ल्यूडी ने एमआरआरडीए को इन सड़कों पर कब्जा करने के लिए एक परिपत्र जारी किया। 13 अप्रैल को जारी किये गये सरकार के इस परिपत्र में कहा गया है कि पीडब्ल्यूडी के मुख्य अभियंता (विशेष परियोजनाएं) और एमएमआरडीए के नामित अधिकारी को तुरंत हस्तांतरण पूरा करना चाहिए।

पूर्वी और पश्चिमी एक्सप्रेस राजमार्गों को गड्ढों की समस्या का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि इन सड़कों की मरम्मत नहीं की जा रही है। पीडब्ल्यूडी के मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने एक्सप्रेस वे और गड्ढों की मरम्मत का आश्वासन दिया था कि मानसून से पहले इनकी मरम्मत कर दी जायेगी। अब, पीडब्ल्यूडी को इन सड़कों को एमएमआरडीए को सौंपने से राहत मिली है।

बता दें कि इन सड़कों को पहले बीएमसी को देने की योजना थीं लेकिन सरकार ने अपना फैसला बदल दिया और इन्हें एमएमआरडीए को दौंप दिया गया।

Loading Comments