मुंबई में हुआ सीप्लेन का ट्रायल, आने वाले कुछ साल में मुंबईकर उठा सकते हैं मजा

मुंबई में सीप्लेन का सेकंड फेज ट्रायल हुआ

  • मुंबई में हुआ सीप्लेन का ट्रायल, आने वाले कुछ साल में मुंबईकर उठा सकते हैं मजा
  • मुंबई में हुआ सीप्लेन का ट्रायल, आने वाले कुछ साल में मुंबईकर उठा सकते हैं मजा
SHARE

मुंबईकरों के लिए खुशखबरी है। अगर सब कुछ तो कुछ सालों के अंदर मुंबईकर सीप्लेन का मजा ले सकते हैं। शनिवार को मुंबई की गिरगांव चौपाटी पर सीप्लेन का ट्रायल किया। स्पाइसजेट की तरफ से किये गए इस ट्रायल में जापान की सेतोची होल्डिंग्स कंपनी का भी सहयोग रहा।स्पाइसजेट सीप्लेन के जरिए छोटे छोटे शहरों के बीच सस्ती हवाई सेवा देने पर भी काम कर रही है। इस तरह के प्लेन जमीन और पानी दोनों जगह उतर सकते हैं।

सस्ता होगा किराया

इस मौके पर मौजूद जहाजरानी मंत्री नितिन गणकरी ने कहा कि एक प्लेन के अंदर 10 और 14  यात्रियों के बैठने की जगह होगी। उन्होंने कहा कि इस प्लेन का किराया इतना रखा जाएगा कि इसे एक आम आदमी आसानी से वहन कर लेगा।

क्या कहा स्पाइस जेट ने?

इस योजना से हमारा उद्देश्य है कि छोटे शहरों में भी हवाई सेवा मुहैया कराई जा सके, इससे छोटे शहरों की कनेक्टिविटी में भी वृद्धि होगी। स्पाइसजेट ने आगे कहा कि शुरू में 100 विमान सेवा में उतरे जाएंगे। यही नहीं उन्होंने आगे कहा कि इस विमान को आपातकालीन परिस्थितयों में भी उपयोग में लाया जा सकेगा। इस प्लेन के माध्यम से पर्यटन को भी बढ़ावा मिले इसके लिए स्पाइसजेट महाराष्ट्र पर्यटन विभाग से संपर्क कर रही है।

क्या होता है सीप्लेन

सीप्लेन उड़ने वाले ऐसे जहाज होते हैं जिन्हे जमीन के साथ साथ पानी में भी उतारा जा कसता है। यही नहीं इन्हें पानी के सर्फेस से ही टेकऑफ कराया जा सकता है।  





संबंधित विषय
ताजा ख़बरें