Advertisement

भारत में विदेशी यात्रियों का स्वागत RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट देखने के बाद ही किया जाएगा

ऐसे यात्री जो उन देशों से आते हैं जिन्होंने डब्ल्यूएचओ (WHO) से अनुमोदित टीका लगवा लिया है या वे ऐसे देश में रहने वाले हैं जिन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर आपसी समझौते किए हैं, उन्हें ही इस प्रकार की छूट दी अनुमति दी गई है।

भारत में विदेशी यात्रियों का स्वागत RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट देखने के बाद ही किया जाएगा
SHARES

कोरोना वायरस (coronavirus) की दोनों खुराक ले लेने वाले विदेशी यात्रियों को अब भारत में प्रवेश की अनुमति दी गई है साथ ही अब उन्हें भारत में प्रवेश करने के बाद क्वारंटीन (quarantine) में भी नहीं रहना पड़ेगा। हालाँकि, विदेशी यात्रियों को भारत में प्रवेश करने से पहले RTPCR की निगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करना आवश्यक किया गया है।

लेकिन ऐसे यात्री जो उन देशों से आते हैं जिन्होंने डब्ल्यूएचओ (WHO) से अनुमोदित टीका लगवा लिया है या वे ऐसे देश में रहने वाले हैं जिन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर आपसी समझौते किए हैं, उन्हें ही इस प्रकार की छूट दी अनुमति दी गई है।

यह नियम हाई रिस्क (High Risk catergory) वाले देशों से आने वाले यात्रियों पर लागू नहीं होगा। इन देशों में यूरोप के देश शामिल हैं, जिनमें दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे और यूके जैसे देश शामिल हैं।

“जिन यात्रियों ने कोरोना वायरस (coroanvirus) टीका के दोनों डोज लगा लिए हैं या covid-19 का टीका लगवाने के बाद 15 दिन बीत गए हैं, उन्हें बिना क्वारंटीन में रहे हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि उन्हें इस बात का निर्देश दिया गया है कि वे भारत आगमन के बाद 14 दिनों तक अपने स्वास्थ्य की निगरानी स्वयं करें, कुछ भी संदिग्ध होने के तत्काल बाद डॉक्टर से सम्पर्क करें।” ऐसा अंतर्राष्ट्रीय आगमन के लिए संशोधित दिशानिर्देशों के तहत किया जा रहा है।

हालाँकि, एयरपोर्ट पर आगमन के बाद पर COVID-19 की RT-PCR टेस्ट की एक निगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। यह रिपोर्ट यात्रा शुरू करने से पहले 72 घंटे के भीतर परीक्षण किया जाना चाहिए।

यह नियम और उपाय उन यात्रियों पर लागू होते हैं जिन्होंने टीके की एक ही खुराक ली है या एक भी डोज नहीं लिया है। इस नियम में, COVID-19 परीक्षण के लिए सैम्पल देना, सात दिनों के लिए होम क्वारंटाइन, भारत आगमन के आठवें दिन COVID-19 का पुन: परीक्षण शामिल है।

इसके अलाव सभी यात्रियों को ऑनलाइन एयर सुविधा पोर्टल पर एक स्व-घोषणा पत्र भरना होगा और निर्धारित यात्रा से पहले एक नकारात्मक COVID-19 RT-PCR रिपोर्ट अपलोड करनी होगी। गाइडलाइंस के मुताबिक यात्रा शुरू करने के 72 घंटे के अंदर यह टेस्ट कर लेना चाहिए।

पढ़ें: ग्रामीण इलाको में वैक्सीनेशन को बढ़ावा देने के लिए स्वास्थ विभाग लेगा पूजारी और हकिमो की सहायता

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें