एसटी बसों के किराए में वृद्धि को फिलहाल मंजूरी नहीं।

एसटी परिवहन मंडल ने टिकट किराएं की बढ़ोत्तरी का दिया है प्रस्ताव

SHARE

एसटी बसों में सफर करना अब आम लोगों के लिए महंगा हो सकता है।  एसटी बस परिवहन मंडल ने राज्य परिवहन विभाग को एसटी बसों की किराएं में वृद्धि का प्रस्ताव भेजा है।  हालांकी अभी तक इस तरह की किसी भी वृद्धि को परिवहन विभाग की ओर से कोई भी मंजूरी नहीं मिली है। 

यह भी पढ़े- मुंबई से गोवा के बाद मुंबई से बाली तक शुरु होगी 'क्रूज’ सेवा ?

डीजल की कीमतों में वृद्धि और एसटी श्रमिकों के वेतन में बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव के कारण एसटी की प्रशासनिक लागत में बड़ी वृद्धि हुई है।  ईंधन की कीमतों में वृद्धि के कारण, परिवहन मंडल को औसत मासिक व्यय करीब 460 करोड़ रुपये है। इसी प्रकार, मजदूरों को हाल ही में 4,849 करोड़ रुपये की वेतन वृद्धि की पेशकश की गई है। इसने एसटी निगम पर बहुत सारे वित्तीय बोझ बढ़ने जा रहे है।

यह भी पढ़े- अरब सागर तट के पास 40 फुट लंबी व्हेल का सड़ा-गला शव

 दरअसल एसटी महामंडल ने टिकट दरों पर 30 फिसदी बढो़त्तरी की बात की थी ,लेकिन यात्रियों पर इसका ज्यादा बोझ ना पड़े इसके लिए टिकट बढ़ोत्तरी की किमत 18 फिसदी तक रखने की बात कही गई थी , लेकिन अभी तक किसी भी तरह की टिकट बढ़ोत्तरी को मंजूरी नहीं दी गई है। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें