लंबी दुरी के ट्रेनों में बने टॉयलेट से जुड़ा आया एक अहम फैसला, जिसे आपको जानना है जरुरी

Mumbai
लंबी दुरी के ट्रेनों में बने टॉयलेट से जुड़ा आया एक अहम फैसला, जिसे आपको जानना है जरुरी
लंबी दुरी के ट्रेनों में बने टॉयलेट से जुड़ा आया एक अहम फैसला, जिसे आपको जानना है जरुरी
लंबी दुरी के ट्रेनों में बने टॉयलेट से जुड़ा आया एक अहम फैसला, जिसे आपको जानना है जरुरी
See all
मुंबई  -  

आने वाले दिनों में आपको मेल,एक्सप्रेस और सुपरफ़ास्ट जैसी ट्रेनों के डिब्बों एक नया परिवर्तन दिखाई पड़ सकता है। ट्रेनों की बोगियों से जुड़ा एक बड़ा फैसला लेते हुए भारतीय रेलवे ने यह निर्णय किया है कि करीब 40 हजार बोगियों में से एक-एक टॉयलेट हटाया जाएगा और उनकी जगह कैटरिंग के सामान को रखा जाएगा। दरअसल, ट्रेनों में खाने की प्लेट्स और कैरेट्स को रखने की जगह नहीं होती थी, जिससे यात्रियों को दिए जाने वाले खाने की प्लेटों को दरवाजे के पास रखा जाता था, जो न तो सफाई के नजरिए से सही है और ना ही स्वास्थ्य के नजरिए से। इसलिए रेलवे ने यह अहम कदम उठाया है। माना जा रहा है कि रेलवे के इस फैसले से यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

रेलवे के इस निर्णय से अब ट्रेन की हर बोगी में 4 टॉयलेट की जगह अब सिर्फ 3-3 टॉयलेट ही बचेंगे। इसके लिए 40 हजार कोच को रीडिजाइन किया जाएगा। रीडिजाइन करने के लिए रेलवे स्पेन और चीन के इंजीनियरों की भी मदद लेगा।

आपको बता दें कि इन कोच में 4 टॉयलेट के अलावा खान-पान की सामग्री रखने की जगह भी होती है। रेलवे ने यह भी फैसला किया है कि अब वह भविष्य में सिर्फ एलएचबी डिजाइन के कोच ही बनाएगा। भारतीय रेल ने 13 जून को मिशन रेट्रो फ़िटमेंट शुरू किया है। इसके तहत रेलवे के पुराने आईसीएफ़ डिज़ाइन के डब्बों को आधुनिक और सुरक्षित बनाया जा रहा है।

हालांकि रेलवे के इस फैसले का विरोध भी हो रहा है। ठाणे प्रवासी संघटना ने इसक विरोध किया है।


ट्रेन के डिब्बे में पहले से ही यात्रियों की काफी भीड़ होती है। उपर से अतिरिक्त यात्री भी आकर बैठ जाते हैं। बाथरूम को बढ़ाने की बजाय उसे घटाया जाना केवल यात्रियों की परेशानियों को बढ़ाना ही है। ठाणे प्रवासी संघटना रेलवे के इस निर्णय का विरोध करता है।
नंदकुमार देशमुख अध्यक्ष, ठाणे प्रवासी संघटना

पहले रेलवे के रिज़र्व क्लास की बोगियों में दो टॉयलेट हुआ करते थे। फिर 1970 के दशक में तत्कालीन यात्री सेवा समिति के सुझाव के आधार पर ट्रेनों के हर कोच में 4 टॉयलेट बनाए गए थे।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.