Advertisement

नए साल में रेलवे ने यात्रियों को दिया झटका, बढ़ाया किराया

पहले से बुक कराए गए टिकट पर इसका असर नहीं पड़ेगा। उपनगरीय ट्रेन के किराए को भी इस बढ़ोतरी से बाहर रखा गया है।

नए साल में रेलवे ने यात्रियों को दिया झटका, बढ़ाया किराया
SHARES


रेलवे ने नए साल पर मेल एक्सप्रेस के सभी वर्गों के किराया में बढ़ोत्तरी करके यात्रियों को झटका दिया है। रेलवे ने किराए में प्रति किलोमीटर 01 से 04 पैसे तक की वृद्धि करने की घोषणा की है। लेकिन पहले से बुक कराए गए टिकट पर इसका असर नहीं पड़ेगा। उपनगरीय ट्रेन के किराए को भी इस बढ़ोतरी से बाहर रखा गया है। अब लंबी दूरी की यात्रा करने वाले यात्रियों को अधिक किराया देना होगा। यह किराए की दर 1 जनवरी, 2020 से लागू हो जाएंगी। हालांकि इस बारे में रेलवे ने कहा है कि किराये में बढ़ोतरी से भारतीय रेलवे के तेजी से आधुनिकीकरण में मदद मिलेगी।

राजधानी और दुरंतो पर भी लागू
रेलवे ने मंगलवार को अपने ट्विटर हैंडल से एक नोट जारी कर बताया कि, साधारण दर्जे के नॉन-एसी ट्रेन के किराए में एक पैसे प्रति किलोमीटर की वृद्धि की गई है। मेल और एक्सप्रेस नॉन-एसी ट्रेन के लिए यह वृद्धि दो पैसे और एसी ट्रेन के किराए में चार पैसे प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है। बढ़ा हुआ किराया शताब्दी, राजधानी और दुरंतो जैसी प्रीमियम ट्रेनों पर भी लागू होगा।

इसीलिए हुई किराए में बढ़ोत्तरी 
रेलवे ने आगे कहा है कि, अंतिम बार रेल किराये में बढ़ोतरी 2014-15 में की गई थी। इसके बाद तेजी से रेलवे की सुविधाओं को बढ़ाना का काम हुआ है। यात्रियों के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए कोच को आधुनिक बनाने से लेकर रेलवे स्टेशनों के अपग्रेडेशन तक के काम में रेलवे लगा हुआ है। इसके अलावा, 7वें वेतन आयोग से भी रेलवे पर बोझ बढ़ा है, जिसकी वजह से किराये में बढ़ोतरी जरूरी हो गई थी।'

रिजर्वेशन चार्ज, सुपरफास्ट चार्ज में कोई बदलाव नहीं
किराए की बात करें तो सेकेंड क्लास के किराये में 2 पैसे, स्लीपर क्लास के किराये में 2 पैसे तथा फर्स्ट क्लास के किराये में 2 पैसे की वृद्धि की गई है। तो वहीं एसी चेयर कार के किराये में 4 पैसे, एसी-3 टीयर के लिए 4 पैसे, एसी-2 टीयर के किराये में 4 पैसे तथा एसी फर्स्ट क्लास के किराये में भी चार पैसे की वृद्धि की गई है। जबकि रेलवे ने रिजर्वेशन चार्ज, सुपरफास्ट चार्ज में कोई बदलाव नहीं किया गया है। 

रेलवे ने स्पष्ट किया है कि यात्रियों को आधुनिक सुविधाएं मुहैया कराने के लिए किराए में मामूली बढ़ोतरी की गई है। बढ़े किराए से मिलने वाले पैसे का इस्तेमाल स्टेशन और रेलवे नेटवर्क को आधुनिक बनाने में किया जाएगा।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें