हर शनिवार और रविवार को होगी सीएनजी बसों की जांच

इस हादसे की जब जांच की गयी तो पता चला था कि बेस्ट चालक की तरफ से कोई भी गलती नहीं की गयी थी। साथ ही यह भी कहा गया था कि जब बस डेपो से बाहर निकली थी तो बस के गैस की टंकी पूरी तरह से फुल थी।

SHARE

कुछ दिन पहले दिंडोशी में बेस्ट की सीएनजी बस में आग लगने के कारण बस जल कर ख़ाक हो गयी थी। हालांकि इस हादसे में किसी के हताहत होने की कोई खबर तो नहीं थी लेकिन बेस्ट की बसों को लेकर जरुर सवाल उठ खड़े हुए थे। इस हादसे के बाद बेस्ट ने निर्णय लिया है कि अब हर शनिवार और रविवार को रात के समय सभी सीएनजी बसों की जांच की जाएगी।

बदले जाएंगे 'गेज'

बताया जाता है कि दिंडोशी में बेस्ट की बस में जो आग लगी थी वह सीएनजी गैस के कारण ही लगी थी। इसके बाद सीएनजी गैस के दबाव को मापने वाले यंत्र 'गेज' को ही बदलने का निर्णय लिया गया है। इस निर्णय के बाद लगभग 1885 सीएनजी में से 825 गेज को तत्काल बदला जाएगा। इसीलिए अब हर हफ्ते सीएनजी बसों की नियमित जांच की जाएगी।

तकनीकी खामी आई सामने 

इस हादसे की जब जांच की गयी तो पता चला था कि बेस्ट चालक की तरफ से कोई भी गलती नहीं की गयी थी। साथ ही यह भी कहा गया था कि जब बस डेपो से बाहर निकली थी तो बस के गैस की टंकी पूरी तरह से फुल थी। जब बस गोरेगांव डेपो से दिंडोशी की तरफ जा रही थी तभी बस के नीचे से आवाज आने लगी और बस जल में आग लग गयी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें