Advertisement

मुंबई लोकल ट्रेन सरकारी, बैंक और कोर्ट के कर्मचारियों के लिए हुई शुरू

ज्यादा से ज्यादा लोगों के लिए लोकल ट्रेन का खुलना नए चरण का नतीजा है। हाल ही में महाराष्ट्र में 31 जुलाई तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ाया गया है।

मुंबई लोकल ट्रेन सरकारी, बैंक और कोर्ट के कर्मचारियों के लिए हुई शुरू
SHARES
Advertisement

राज्य और केंद्र सरकारों से अनुमोदन के बाद, अब मुंबई लोकल, सेंट्रल गवर्मेन्ट कर्मचारियों के अलावा अदालतों, बैंकों, रक्षा, आयकर, सीमा शुल्क और अन्य फील्ड में कार्यरत लोगों के लिए शुरू हो रही है। इस नए निर्णय के अनुसार इनमें से किसी भी संस्था में काम करने वाले कर्मचारियों को अपने ट्रेनों से और स्थानीय ट्रेनों के माध्यम से यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी।

ज्यादा से ज्यादा लोगों के लिए लोकल ट्रेन का खुलना नए चरण का नतीजा है। हाल ही में महाराष्ट्र में 31 जुलाई तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ाया गया है। पर इसमें कई तरह की नागरिकों को छूट भी दी गई हैं।

लोकल ट्रेन 15 जून से आवश्यक सेवा वाले कर्मचारियों के लिए उपलब्ध है। हालांकि यह सेवा ज्यादातर डॉक्टर पुलिस, बेस्ट और मंत्रालय के कर्मचारियों तक के लिए ही सीमित थी। राज्य सरकार ने लगभग 1.25 लाख अत्यावश्यक सेवा में लगे कर्मचारियों को ही यात्रा करने की अनुमति दी थी।

सोमवार से वेस्टर्न रेलवे ने अतिरिक्त 40 नई ट्रेनें शुरू की हैं। जिसमें से 20 स्लो ट्रेन चर्चगेट से बोरीवली और 14 फास्ट ट्रेन चर्चगेट और विरार के बीच चलाई गई।

विरार से बोरीवली तक दो नई धीमी लोकल, बोरीवली से वसई के बीच दो धीमी लोकल और वसई से चर्चगेट तक दो तेज़ ट्रेनें भी चल रही हैं।  मध्य रेलवे ने घोषणा की है कि वह 30 जून को या उसके बाद ट्रेन यात्रा के लिए तत्काल बुकिंग शुरू कर देगा।

डेटा बताता है कि कुल 162 ट्रेनें वर्तमान में प्रत्येक दिन पश्चिम रेलवे लाइन पर चलती हैं, जबकि सेंट्रल रेलवे लाइन पर लगभग 130 ट्रेने और हार्बर लाइन में प्रति दिन 70 ट्रेनें हैं। 

लोकल ट्रेन में 1,200 की बैठने की क्षमता होती है, पर गवर्मेन्ट ने इसमें अभी 750 यात्री ही अलाव किए हैं ताकि सोशल डिस्टनसिंग फ़ॉलो हो सके।

संबंधित विषय
Advertisement