SHARE

राज्य भर में एसटी बस कर्मियों ने मंगलवार की सुबह हड़ताल का एलान कर दिया, जिसके बाद एसटी की बसें अपने अपने डिपों पर ही खड़ी रही। जहां एक तरफ यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तो वही दूसरी ओर शहर में प्राईवेट बस चालको ने अपने किराए में जबरदस्त बढ़ोत्तरी की है। दिवाली के एन पहले हुई इस हड़ताल का फायदा उठाते हुए शहर के प्राइवेट बस चालको ने अपना किराया बढ़ा दिया है। जिस आम जनता पर दोहरी मार पड़ी है।

मुंबई पुणे मार्ग पर हर रोज 300 रुपये किराए के तौर पर लिये जाते है, लेकिन आज ये किराया 350 से 450 रुपये तक कर दिया गया है। मुंबई से नाशिक मार्ग पर नॉन एसी 250 और एसी बस के 550 रुपये लिए जा रहे है। एसटी की ओर से अभी तक 1200 प्राइवेट बस और 1800 अन्य वाहनों की सुविधा की गई है।

प्राइवेट बस संगठना के सचिव हर्षल कोटक ने मुंबई लाइव से बात करते हुए बताया की हमारे किराए एसटी के किराए से काफी कम है। सुबह से हमने 300 बस यात्रियों की सुविधा के लिए सड़क पर उतारे है। शआम के समय भीड़ की संख्या को देखते हुए 700 से 800 बसें सड़क पर उतारी जा सकती है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें