परेल स्टेशन पर बनेगा स्काईवॉक, प्रभादेवी जाने वाले यात्रियों को मिलेगी राहत

सेंट्रल रेलवे इस स्काईवॉक पर एक एलिवेटेड टिकट काउन्टर भी बना सकता है जिससे दादर की तरफ से आने वाले यात्री भी टिकट ले सकते हैं। इस स्काईवॉक का निर्माण 2020 तक पूरा हो जाएगा।

  • परेल स्टेशन पर बनेगा स्काईवॉक, प्रभादेवी जाने वाले यात्रियों को मिलेगी राहत
SHARE

वेस्टर्न से सेंट्रल में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है। यात्री अब प्रभादेवी (पहले एल्फिन्स्टन रोड) स्टेशन से गुजरे बिना सीधे परेल स्टेशन जा सकते हैं। सेंट्रल रेलवे (CR) परेल स्टेशन के पूर्वी छोर पर 500 मीटर लंबे स्काईवॉक का निर्माण करेगी, यह स्काईवॉक स्टेशन के बगल बने सड़क से कनेक्ट होगी, जिससे यात्री प्रभादेवी की तरफ भी जा सकता है।

स्काईवॉक का निर्माण 2020 तक होगा पूरा
सेंट्रल रेलवे इस स्काईवॉक पर एक एलिवेटेड टिकट काउन्टर भी बना सकता है जिससे दादर की तरफ से आने वाले यात्री भी टिकट ले सकते हैं। इस स्काईवॉक का निर्माण 2020 तक पूरा हो जाएगा। सेंट्रल रेलवे ने आगे कहा है कि इस स्काईवॉक का निर्माण उस प्लानिंग का एक हिस्सा है जिसके तहत छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (CSMT) और परेल रेलवे स्टेशन के बीच दो अतिरिक्त रेलवे लाइनें बनाने का निर्णय लिया गया था।इस स्काईवॉक के बन जाने के बाद परेल स्टेशन पर भीड़ काफी कम हो जाएगी। 

जल्द बनेगा परेल टर्मिनस
यही नहीं जल्द ही परेल टर्मिनस का कम भी शुरू होने वाला है। इस टर्मिनस के बन जाने के बाद कुर्ला और दादर टर्मिनस से भी भीड़ कम होने के कयास लगाये जा रहे हैं। इस टर्मिनस से लोकल ट्रेनों के अलावा एक्सप्रेस ट्रेनें भी छूटेंगी। इस टर्मिनस का निर्माण 14 हेक्टेयर में किया जाएगा जिसकी अनुमानित लागत 190 करोड़ रूपये है। 

संबंधित विषय