Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
43,43,727
Recovered:
36,09,796
Deaths:
65,284
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
56,153
3,882
Maharashtra
6,41,596
57,640

रेलवे की असंवेदनशीलता के कारण दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति की इलाज के आभाव में हुई मौत

घायल व्यक्ति रात भर ट्रैक पर पड़ा रहा, आखिर सुबह होने पर जब रेलवे कर्मचारियों को व्यक्ति के बारे में पता चला तो उसे ट्रेन से अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

रेलवे की असंवेदनशीलता के कारण दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति की इलाज के आभाव में हुई मौत
SHARES

भले ही रेलवे अपने अपग्रेडेशन का दावा करे लेकिन उसके लिए इंसान की जान कोई मायने नहीं रखती। नवी मुंबई के दिवा-तलोजा स्टेशन के बीच कोंकणकन्या एक्सप्रेस की चपेट में आकर एक व्यक्ति गंभीर रूप से जख्मी हो गया। घायल व्यक्ति रात भर ट्रैक पर पड़ा रहा, आखिर सुबह होने पर जब रेलवे कर्मचारियों को व्यक्ति के बारे में पता चला तो उसे ट्रेन से अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। व्यक्ति को तत्काल इलाज की जरूरत थी, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। घटना सोमवार रात की है।

स्थानीय लोगों के मुताबिक सोमवार आधी रात लगभग 1 बजे रेलवे ट्रैक पार करते समय एक व्यक्ति कोंकण कन्या एक्सप्रेस की चपेट में आ गया। इस बात की जानकारी रेलवे कर्मचारियों को ढाई बजे पता चली लेकिन इसके बाद भी कोई मौके पर नहीं पहुंचा। लेकिन सुबह होने पर जब कर्मचारी मौके पर पंहुचा तब तक व्यक्ति की मौत हो चुकी थी, लेकिन एम्बूलेंस नहीं होने के कारण फिर से ट्रेन का इंतजार करना पड़ा और जब एक घंटे बाद पैसेंजर ट्रेन आई तब उसे दिवा स्टेशन लाया गया और वहां से हॉस्पिटल ले जाया गया।

कुछ यात्रियों ने बताया कि अगर घायल व्यक्ति को समय पर इलाज मिलता तो उसकी मौत नहीं होती, इस घटना के बाद रेलवे की असंवेदनशीलता एक बार फिर से सामने आ गयी।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें