Advertisement

जोगेश्वरी में रेल टर्मिनस के लिए मिले एक करोड़

सरकार ने नवी मुंबई में पनवेल टर्मिनस के लिए 8 करोड़ रुपये और पश्चिमी उपनगर के जोगेश्वरी में एक रेल टर्मिनस के लिए एक करोड़ रुपये आवंटित किए हैं।

जोगेश्वरी में रेल टर्मिनस के लिए मिले एक करोड़
SHARES
Advertisement

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ( Union Finance Minister Nirmala Sitharam) द्वारा हाल ही में पेश किये गए केंद्रीय बजट (budget) में मुंबई के उपनगरीय रेलवे नेटवर्क की क्षमता को बढ़ाने के लिए मुंबई शहरी परिवहन परियोजना (MUTP) के लिए 550 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। इस बजट में MUTP-2 के लिए 200 करोड़ रुपये, MUTP-3 के लिए 300 करोड़ रुपये और एमयूटीपी -3 ए के लिए 50 करोड़ रुपये आवंटन किया गया है। 

 हालांकि, MUTP को वित्तीय वर्ष 2019-20 की तुलना में इस बार 28 करोड़ रुपये कम धनराशि मिली है,  MUTP के लिए कुल  578 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया था।

बजट में कहा गया है कि बेलापुर-सीवुड-उरण परियोजना के अलावा नवी मुंबई में के हवाई अड्डे के के लिए इस साल 2020-21 में 100 करोड़ रुपये की निधी तय की गयी है।

एक रेलवे अधिकारी ने कहा कि, शहर के प्रस्तावित निजी ट्रेन परिचालन पर ध्यान केंद्रित करते हुए, सरकार ने नवी मुंबई में पनवेल टर्मिनस के लिए 8 करोड़ रुपये और पश्चिमी उपनगर के जोगेश्वरी में एक रेल टर्मिनस के लिए एक करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। 

पश्चिम रेलवे को 32 उपनगरीय स्टेशनों में एकीकृत सुरक्षा प्रणाली के लिए 1.18 करोड़ रुपये दिए गए हैं साथ ही  बांद्रा स्टेशन के ग्रेड- I विरासत संरचना के संरक्षण और बहाली के लिए भी 4.24 करोड़ रुपयेआवंटित किये गए हैं।

मध्य रेलवे ने कहा कि कल्याण और कसारा स्टेशनों के बीच 67 किलोमीटर लंबी तीसरी लाइन के लिए 55 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे। बजट मौजूदा दो लाइनों पर दबाव को कम करेगा और रेलवे को कॉरिडोर पर अधिक ट्रेनें चलाने की अनुमति देगा।

रेलवे के एक अधिकारी ने आगे कहा कि, मुम्बई को यात्री सुविधाओं और बुनियादी सुविधाओं जैसे जैसे लिफ्ट, एस्केलेटर और फुट ओवर ब्रिज के लिए भी पर्याप्त धनराशि मिली है।

संबंधित विषय
Advertisement