रेलवे क्लर्क ने 1,333 रुपये की जगह स्वाइप किए 1.30 लाख रुपये !


SHARE

जहां एक ओर केंद्र सरकार डिजीटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दे रही है तो वही दूसरी ओर इस डिजीटल ट्रांजेक्शन में लापरवाहियां भी नजर आ रही है। लोकल रेल में कैशलेश प्रवास को बढ़ावा देने के लिए रेलवे ने कई अहय कदम उठाए साथ ही कई अहम योजनाओं की भी शुरुआत की। जिसमें छूट से लेकर कंशेसन तक भी दिया जा रहा है।

यह भी पढ़े- दहीसर पुलिस स्टेशन से कचरा हुआ साफ !

मामला , बोरिवली रेलवे स्टेशन का है, जहां दहिसर में रहनेवाले विकास मंचेकर ने बोरिवली से अंधेरी तक का प्रथम श्रेणी का तीमाही पास जिसका दाम 1330 है , निकालने के लिए अपना क्रेडिट कार्ड क्लर्क को दिया , लेकिन क्लर्क की गलती के कारण उसके अकाउंट से 1330 की जगह 1 लाख 33 हजार से भी ज्यादा की रकम कट गई।

विकास मंचेकर ने इसकी शिकायत रेलवे को की है ,साथ ही मंचेकर को इस बात की भी चिंता है की क्रेडिट कार्ड द्वारा किए गए इस भूगतान पर बैंक उनसे ब्याज भी लेगा। जिसके बाद पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रवींद्र भाकर ने कहा की इस मामले की जांच जारी है।

कब हुआ पुरा मामला-

ये घटना 4 अगस्त की बताई जा रही है। जिस समय विकास मंचेकर बोरिवली से अंधेरी तक का प्रथम श्रेणी का तीमाही पास निकालने जा रहे थे।

क्या है विकास की मांग-

विकास चाहते है की उनका पैसा उन्हे समय पर मिल जाए ताकी उन्हे क्रेडिट कार्ड का ब्याज ना भरना पड़े और गलती करनेवाले क्लर्क पर कड़ी कार्रवाई हो।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें