रेलवे की पटरियां होंगी झोपड़े मुक्त

 Mumbai
रेलवे की पटरियां होंगी झोपड़े मुक्त
रेलवे की पटरियां होंगी झोपड़े मुक्त
रेलवे की पटरियां होंगी झोपड़े मुक्त
See all

आने वाले कुछ समय में रेलवे की जमीनों पर बने अवैध झोपड़े अब नहीं दिखाई देंगे क्योंकि मंगलवार को राज्य सरकार और रेलवे मंत्री के द्वारा लिए गये एक अहम फैसला में रेलवे परिसर के झोपड़ों का पुनर्वास स्लम रिहैबलिटेशन अथॉरिटी और रेलवे द्वारा जॉइंट वेंचर में करने को मंजूरी दे दी गई। इस सम्बन्ध में मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शेलार ने तवीत कर जानकारी भी दी।

ये झोपड़े रेल परियोजनाओं में रोड़ा बन रहे हैं, मुंबई शहर और उपनगर में रेलवे की कई बड़ी परियोजनाएं प्रस्तावित हैं लेकिन जमीन अधिग्रहण में देरी के कारण प्रस्तावित योजनाये सालों से अधर में पड़ी हैं। रेलवे की इन जमीनों कई लोग अवैध कब्जा कर वहां रह रहे हैं जिन्हें हटाना रेलवे के लिए अब टेढ़ा काम हो गया है। ऐसे में मंगलवार को केंद्रीय रेलवे मंत्री सुरेश प्रभु और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और गृहनिर्माण राज्य मंत्री रविंद्र वायकर रेलवे महाप्रबंधक के बीच हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि मुंबई और उपनगर में रेल ट्रैक के पास हजारों झोपडें हैं, जिनका पुनर्वास एसआरए और रेलवे द्वारा ज्वाइंट वेंचर में किया जाएगा। रेलवे परिसर में 80 हेक्टयर जमीन पर करीब 12 लाख झोपड़ें हैं, जिनका पुनर्वास एसआरए और रेलवे द्वारा मिल कर किया जाएगा। सेंट्रल रेलवे के अंतर्गत 37.25 हेक्टेयर जमीन पर झोपड़े है तो पश्चिम रेलवे के अंतर्गत 41 हेक्टेयर जमीन पर झोपड़े बने हुए हैं, जिनका पुनर्वास किया जाएगा।

Loading Comments