अधिक सामान के लिए रेलवे नहीं लगाएगा जुर्माना, नियम हुआ वापस


SHARE

चौतरफा आलोचना होने के बाद रेलवे ने अपने उस नियम को वापस ले लिया जिसमें कहा गया गया था कि तय भार से अधिक सामान ले जाने पर रेलवे 6 गुना अधिक जुर्माना यात्रियों से वसुल करेगी। अब ट्रेनों में अब यात्री चाहे जितना सामान ले जा सकता है। रेलवे की तरफ से ने 1 जून से 6 जून तक अभियान चलाकर अतिरिक्त सामान ले जाने पर जुर्माने लगाने का फैसला लिया गया था। 


रेलवे ने दी सफाई 

अब रेलवे ने सफाई देते हुए कहा कि यह नियन इसीलिए जारी किया गया था ताकि यात्रियों में जागरूकता लाई जा सके। रेलवे ने आगे कहा कि हमें कई यात्रियों की तरफ से यह शिकायत मिली थी कि कई यात्री क्षमता से अधिक सामान लेकर चलते हैं जिससे अन्य यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसीलिए रेलवे ने बिना बुकिंग निर्धारित भार से ज्यादा सामान ले जाने पर छह गुना जुर्माना वसूलने की बात कही थी।

हुई आलोचना 

रेलवे का यह नियम जैसे ही सामने आया इसकी चौतरफा आलोचना होने लगी। सोशल मिडिया में इसके खिलाफ विरोध के स्वर मुखर होने लगे। जिसके बाद से रेलवे ने  नियम को रद्द कर दिया।

क्या था नियम?

आपको बता दें कि अभी रेलवे ने यह नियम जारी किया था कि सामान का वजन अधिक होने पर रेलवे यात्रियों से 6 गुना तक जुर्माना वसूला जा सकता है। तय नियम के मुताबिक रेलवे के तय नियम के अनुसार एसी फर्स्ट क्लास के यात्री को 70 कि.ग्रा, एसी 2 टीयर के यात्री को 50 कि.ग्रा, एसी 3 टीयर, एसी चेयरकार और स्लीपर क्लास के यात्री को 40 कि.ग्रा और सेकंड क्लास के यात्री को 35 कि.ग्रा सामान ही अपने साथ ले जाने की अनुमति हैं।

संबंधित खबर: सावधान रेल यात्रियों, अधिक सामान लेकर यात्रा करना पड़ सकता है महंगा

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें