आज से ओला और उबर के ड्राइवरो की हड़ताल!

ड्राइवरो को कहना है की ओला और उबर ने ड्राइवर्स को यह आश्वासन दिया था कि उन्हें अच्छी इनकम होगी लेकिन इनकम आधी भी नहीं हो रही है।

SHARE

ऐप बेस्ड टैक्सी सर्विस प्रोवाइर करनेवाली कंपनी ओला और उबर के ड्राइवर्स   18 मार्च रविवार की रात से यानी की सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा की है। कंपनी के ड्राइवरो ने अपनी अलग अलग मांगो को लेकर इस अनिश्चितकालीन हड़ताल का एलान किया है।   गौरतलब है की ओला और उबर के बई, दिल्ली, बंगलुरु, हैदराबाद और पुणे में कई ग्राहक और इन कंपनियों के ड्राइवर्स के हड़लात पर जाने से लोगों को कुछ तकलीफ का सामना करना पड़ सकता है।  

 

ऑटो और टैक्सी ड्राइवरों की दादागिरी पर लगेगी लगाम, गाड़ी में टोल फ्री नंबर लगाना होगा अनिवार्य


इनकम कम होना है बसे बड़ी वजह

ड्राइवरो को कहना है की ओला और उबर ने ड्राइवर्स को यह आश्वासन दिया था कि उन्हें अच्छी इनकम होगी लेकिन इनकम  आधी भी नहीं हो रही है। मुंबई में करीब 45,000 कैब्स है लेकिन स्लोडाउन के कारण कारोबार में 20 फीसदी की गिरावट है।


ओला ने माइक्रोसाफ्ट से मिलाया हाथ !



क्या है ड्राइवरों की मांग 


 ड्राइवर्स यूनियन की प्रमुख मांग है कि पहले की तरह उनको कम से कम 1.25 लाख रुपए कारोबार मिले। इसके साथ ही  कंपनी अपने द्वारा चलाई जा रहीं कैब को बंद करें।  उन ड्राइवर्स को दोबारा से रखा जाए जिन्हे कस्टमर्स ने कम रेटिंग दी है। गाड़ी की कॉस्ट के अनुसार किराए तय किए जाएं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें