पश्चिम रेलवे ने 'मुफ्तखोर' यात्रियों से वसूले 11 करोड़ जुर्माना


SHARE

पश्चिम रेलवे ने बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों पर कार्रवाई करते हुए जुर्माने के तौर पर उनसे लगभग 11 करोड़ रुपया वसुल किया। यह आंकड़ा केवल फरवरी महीने का है। यही नहीं कार्रवाई करते हुए रेलवे ने 89 हजार लोगों पर केस भी दर्ज किया।

रेलवे से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि रेलवे में बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। साथ ही खुद का आरक्षित टिकट दूसरे यात्री को देने जैसी घटना में भी वृद्धि हुई है।

पश्चिम रेलवे प्रशासन ने अप्रैल 2017 से फरवरी 2018 के दौरान टिकट दलाली और अन्य अवैध गतिविधियों में लिप्त कई संदेहजनक लोगों पर भी कार्रवाई की। इस पर कार्रवाई करते हुए 23 लाख लोगों पर केस दर्ज करते हुए इनसे 99 करोड़ 33 लाख रूपये का दंड वसूला गया। अगर आंकड़ें पर गौर करें तो यह पिछले साल की तुलना में 9.36 फीसदी अधिक है।

पश्चिम रेलवे प्रशासन ने एक विशेष अभियान चला कर बिना टिकट यात्रा करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है, साथ ही रेलवे की तरफ से यह निवेदन किया जा रहा है कि लोग बिना टिकट यात्रा न करें।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें