खुशी के बीच थोड़े नाराज मुबईकर

 Pali Hill
खुशी के बीच थोड़े नाराज मुबईकर

मुंबई – बुधवार को व्योहार के लिए बंद रहे बैंक गुरुवार की सुबह खुले, बैंक खुलते ही लंबी लंबी लाइने लगी। लोगों ने अपने पैसे खातों में जमा किए तो कुछ ने पुराने नोटों के बदले नए नोट मांगे। मुंबी के कुछ बैकों की इस दौरान व्यवस्था चरमरा गई जिसका खामियाजा ग्राहकों को भुगतना पड़ा। कुछ लोग पुराने नोट वापस लेकर घर गए तो किसी ने झगड़ा किया क्योंकि बैंकों के पास नोटों की कमी आ गई थी। यह हाल बहुत से विभागों का रहा। लोअर परेल स्थित देना बैंक में ग्राहकों-कर्मचारियों के बीच मारपीट तक की नौबत आ गई। गुरुवार की सुबह यहां के यस बैंक का एटीएम खुला हुआ था परंतु लगातार पैसा निकाले जाने से इसका पैसा दोपहर तक खतम हो गया। वहीं वरली के कुछ बैंकों की डिपॉजिट फॉर्म ही खतम हो गए।

मंगलवार की रात केंद्र सरकार ने 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट को बंद करने का निर्णय लिया जिसके बाद बुधवार को ग्राहकों के कामकाज के लिए बैंक बंद रहा। जिसकी वजह से लोगों को खुल्ला पैसा के लिए परेशानी उठानी पड़ी। हालांकि गुरुवार की सुबह थोड़ा खुशियां लेकर आई। इस बीच मुंबईकर थोड़ा खुश और कहीं न कहीं नोट अचानक बंद किए जाने पर थोड़ा नाराज दिखे।

मुंबई लाइव की लोगों से अपील है कि आप घबराएं नहीं आप अपने पुराने नोटों को 30 दिसंबर 2016 तक बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा या बदल सकते हैं। बस आपको इसके लिए पहिचान पत्र लेकर जाना होगा।

Loading Comments