SHARE

नरिमन प्वाईंट- 500 और 1000 के पुराने नोट को रद्द करने के बाद आरबीआई ने सहकारी बैंको को पैसे लेने से मना कर दिया है जिसके बाद आरबीआई के इस फैसले के विरोध में को -ऑपरेटीव बैंक युनियन कर्मचारी ने अब आंदोलन का इशारा दिया है। युनियन के अध्यक्ष सांसद आनंदराव अडसूल का कहना है की आरबीआई के इस निर्णय के बाद को -ऑपरेटीव बैंको के ग्राहक सेवा पर असर पड़ेगा। कार्याध्यक्ष सुनील सालवी ने आनंदराव अडसूल के नेतृत्व में आरबीआई के खिलाफ आंदोलन की बात कही।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें