Advertisement

भारत की जीडीपी नकारात्मक रहेगी - S & P

मार्च और जून 2020 के बीच, भारतीय अर्थव्यवस्था में 23.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई। लॉकडाउन के कारण, निजी क्षेत्र में क्रय शक्ति 26.7 प्रतिशत और स्थिर निवेश 47.1 प्रतिशत गिर गया।

भारत की जीडीपी नकारात्मक रहेगी - S & P
SHARES

कोरोना(Corona virus)  के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन(Lock down)  भारतीय अर्थव्यवस्था को कड़ी चोट लगी है।  भारत की जीडीपी माइनस 23 पर पहुंच गई है।  इस जीडीपी के और नीचे जाने की उम्मीद है।  वैश्विक रेटिंग एजेंसी एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स के मुताबिक, भारत की अर्थव्यवस्था में 9 फीसदी तक की कमी आने की उम्मीद है।  इससे पहले, एजेंसी ने भारत की अर्थव्यवस्था को पांच फीसदी तक कम करने का अनुमान लगाया था।


मार्च और जून 2020 के बीच, भारतीय अर्थव्यवस्था में 23.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई।  लॉकडाउन के कारण, निजी क्षेत्र में क्रय शक्ति 26.7 प्रतिशत और स्थिर निवेश 47.1 प्रतिशत गिर गया।  जून में तालाबंदी में ढील दी गई है

एसएंडपी का अनुमान है कि पिछले साल की समान अवधि की तुलना में जून-सितंबर में जीडीपी की वृद्धि नकारात्मक रहेगी, यहां तक कि औद्योगिक गतिविधि में भी तेजी आएगी।

यह भी पढ़ेसंजय गांधी नेशनल पार्क को फिर से खोलने की मांग


Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement