मुंबई: मेट्रो के लिए काटे जाएंगे 300 पेड़

मुंबई में मेट्रो का काम कर रही DMRC यानी दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की तरफ से बीएमसी की वृक्ष प्राधिकरण को इस बाबत अर्ज भेजा गया है।

SHARE

 

मेट्रो-3 के लिए आरे में कारशेड बनने के लिए जंगल से 2500 पेड़ काटे गए जिसे लेकर काफी हो हल्ला हुआ, मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा, इसके बाद कोर्ट ने पेड़ काटने पर रोक लगा दी गयी। लेकिन अब फिर से 300 पेड़ काटे जाने के निर्णय लिए गए हैं लेकिन यह पेड़ मेट्रो-2 A के लिए काटे जाएंगे। इन पेड़ों को DN नगर से लेकर दहिसर तक काटा जाना है। इसके अलावा अंधेरी, कांदिवली और दहिसर में भी लगभग 154 पेड़ काटे जाएंगे, लेकिन इनकी जगह फिर से 150 पेड़ लगाए जाएंगे। मुंबई में मेट्रो का काम कर रही DMRC यानी दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की तरफ से बीएमसी की वृक्ष प्राधिकरण को इस बाबत अर्ज भेजा गया है।


पढ़ें: Save Aarey: हाई कोर्ट ने दिया पर्यावरण प्रेमियों को झटका, पेड़ कटेंगे?


DMRC की तरफ से बीएमसी के वृक्ष पारधिकरण विभाग को जो अर्ज भेजा गया है उसके अनुसार DN नगर से ओशिवारा नदी तक 31 पेड़ काटे जाएंगे, लेकिन इन स्थानों पर नए 88 पेड़ लगाए भी जाएंगे। दहिसर में 70 पेड़ काटे जाएंगे लेकिन इनकी जगह 41 नए पेड़ लगाए जाएंगे। यही नहीं कांदिवली के लालजी पाड़ा से महावीर नगर तक 56 पेड़ काटे जाएंगे और उनकी जगह 21 नए पेड़ रोपित किये जाएंगे।


पढ़ें: Save Aarey: 'सिर्फ पेड़ ही नहीं काटेंगे बल्कि दुर्लभ जंतुओं के अस्तित्व भी खतरे में आ जाएगा'


वृक्ष प्राधिकरण ने इन पेड़ों को काटने के लिए नागरिकों से आपत्तियों और सुझावों को मंगाया है। इसके अलावा कसारवडवली से वडाला (मेट्रो-4) और स्वामी समर्थ नगर से विक्रोली (मेट्रो-6), इन दोनों के लिए भी 1821 पेड़ों को काटे जाने का निर्णय लिया है। हालाँकि, इन पेड़ों के लिए मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन डेवलपमेंट अथॉरिटी (MMRDA) द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव में त्रुटियां और विसंगतियां  पाए जाने के बाद प्राधिकरण के प्रस्ताव को वापस कर दिया।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें