कैशलेस से आरटीओ भ्रष्टाचार मुक्त

मुंबई - आरटीओ का नाम आते ही लोगों के दिमाग में दलाल, भ्रष्टाचार, काम में लापरवाही

जैसी तस्वीरें उभरती हैं, लेकिन जल्द ही आरटीओ की यह छवि बदलने वाली है। आरटीओ मार्च २०१७ से कैशलेस होने जा रहा है। जिसके लिए नेशनल इन्फॉर्मेटिक सेंटर के सहयोग से परिवहन विभाग महाराष्ट्र भर के ५० आरटीओ कार्यालयों को जोड़ने जा रहा है। अब गाड़ी के लाइसेंस और गाड़ी के फिटनेस प्रमाणपत्र के लिए निजी उपस्थिति को छोड़कर दूसरे कार्यों के लिए आरटीओ कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं है। इससे जहां दलालों की चिंता बढ़ गई है वहीं आम नागरिक इस निर्णय का स्वागत कर रहे हैं।

Loading Comments