बीएमसी ने काला घोड़ा के प्रसिद्ध सेना कैंटीन को बंद करने का दिया हुकुम

स्थानीय लोग बताते हैं कि एस्प्लेनेड मेंशन को साल 1863 में बनाया गया था, जिसे महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (म्हाडा) ने जीर्ण और खतरनाक घोषित कर दिया है।

SHARE

बीएमसी ने काला घोड़ा स्थित प्रसिद्ध सेना कैंटीन के मालिकों को नोटिस जारी किया है। बीएमसी ने नोटिस के जरिए 24 घंटे में कैंटीन बंद करने का हुकुम सुनाया है। बीएमसी के अनुसार यह जिस इमारत 'एस्प्लेनेड मेंशन' में यह रेस्तरां चल रहा है वह 156 साल पुरानी इमारत है। बीएमसी ने इस इमारत को "खतरनाक" इमारत की श्रेणी में रखा है।

बीएमसी ने नोटिस जारी कर रेस्तरां मालिक को अपना व्यवसाय 24 घंटे में बंद करने को कहा है। नोटिस में यह भी कहा गया है कि अगर रेस्तरां को बंद नहीं किया गया तो इसे सील कर दिया जाएगा। इसके साथ ही नोटिस में यह भी जोड़ा गया है कि इसे तब तक बंद रखा जाए जब तक भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानी IIT-बॉम्बे के विशेषज्ञ बॉम्बे हाई कोर्ट को इमारत की ऑडिट रिपोर्ट नहीं भेज देते हैं।

बीएमसी अधिकारियों का कहना है कि रेस्तरां में आने वाले लोग इमारत की स्थिति से अनजान हैं और उनके जीवन को खतरे में नहीं डाला जा सकता है।

जबकि स्थानीय लोगों का कहना है  कि इस इमारत के मालिकों और किरायेदारों के बीच चल रहे विवाद के कारण आज तक इसका ऑडिट नहीं कराया जा सका।

स्थानीय लोग बताते हैं कि एस्प्लेनेड मेंशन को साल 1863 में बनाया गया था, जिसे महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (म्हाडा) ने जीर्ण और खतरनाक घोषित कर दिया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें