Advertisement

मलाड, कांदिवली, बोरीवली और दहिसर में बीएमसी अधिकारियों की खास नजर

अतिरिक्त नगर आयुक्त (स्वास्थ्य) सुरेश काकानी ने बीएमसी के कर्मचारियों से कहा है कि वे इस स्थान पर इमारतों पर नज़र रखें

मलाड, कांदिवली, बोरीवली और दहिसर में बीएमसी अधिकारियों की खास नजर
SHARES

मुंबई सहीत पूरे महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढती जा रही है।  मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई और पुणे राज्य में कोरोना के मुख्य केंद्र हैं। इस बीच, बोरीवली, दहिसर, कांदिवली और मलाड में कोरोना रोगियों की संख्या बढ़ रही है। इसलिए, अतिरिक्त नगर आयुक्त (स्वास्थ्य) सुरेश काकानी ने बीएमसी के कर्मचारियों से कहा है कि वे इस स्थान पर इमारतों पर नज़र रखें। काकानी ने पिछले हफ्ते पश्चिमी उपनगरों का दौरा किया था।  बीएमसी के कर्मचारी विभिन्न  इमारतो और सोसयाटी के सदस्यों के साथ  बैठकें कर रहे हैं।

बुखार क्लिनिक की भी स्थापना

कोरोना के प्रकोप को नियंत्रित करने के तरीकों के बारे में बता रहे हैं। बुखार क्लिनिक स्थापित किया जाएगा और वहां जांच भी की जा रही है।  इसके साथ ही स्थानीय लोगों के ऑक्सीजन स्तर की जांच करना भी एक बड़ा काम है। सोसाइटी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से क्या करना है और क्या नहीं करना है, इस बारे में भी दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। इतना ही नहीं, गृहिणियों , घर में काम करनेवाली महिलाएं और ड्राइवरों के संबंध में बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में भी बताया जा रहा है उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि आसपास खड़े वाहनों में यात्रियों और चालक के बीच पॉलिथीन स्क्रीन होनी चाहिए।

इन वाहनों का इस्तेमाल करेनावेल  व्यक्ति को अपने हाथ धोने चाहिए और वाहन के हैंडल को कीटाणुरहित करना चाहिए। इसलिए सोसाइटियों को लिफ्ट, उनके बटन, कॉमन एरिया और बिल्डिंग स्टेप्स को भी कीटाणुरहित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ेहर जिले में कोरोना परीक्षण प्रयोगशालाएं स्थापित की जाएगी- मुख्यमंत्री

संबंधित विषय
Advertisement