अखबार में वड़ा पाव बेचने पर लगेगी पाबंदी? बीएमसी ला सकती है प्रस्ताव

 Mumbai
अखबार में वड़ा पाव बेचने पर लगेगी पाबंदी? बीएमसी ला सकती है प्रस्ताव

वड़ापाव हो या फिर किसी भी तरह का खाद्यपदार्थ , आप को हर तरह के चीजों का अखबार में ही बांद कर दिया जाता है। लेकिन क्या आपको पता है की इन अखबारो में जिस तरह से वड़ापाव या किसी औऱ खाद्य पदार्थ को रखा जाता है, उनसे हमारी सेहत को कितना नुकसान होता है? जिसे देखते हुए बीएमसी अब अखबारो में वड़ापाव बेचने पर पाबंदी लगाने का विचार कर रही है।

बीएमसी में नगरसेवक इस बाबत एक प्रस्ताव लेकर आनेवाले है। शिवसेना के नगरसेवक आशिष चेंबूरकर ने इस बात की मांग की है की पेपर में वड़ापव और अन्य खाद्य सामग्री की बिक्री पर रोक लगाई जाए। पेपर में वड़ापाव और अन्य खाद्य पदार्थ बेचने से गंभीर बीमारी हो सकती है।

दरअसल अखबारों के छपाई के लिए इस्तेमाल की जानेवाली स्याही में ग्राफाईट नाम का केमिकल होता है, जो अखबारो में वड़ापाव और अन्य खाद्य पदार्थो में मिल जाता है, जिसके काफी गंभीर बीमारियां भी हो सकती है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Loading Comments