बॉम्बे हाईकोर्ट की दूसरी महिला मुख्य न्यायाधीश मंजुला चेल्लूर हुई सेवानिवृत्त !


SHARE

सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपनी दूसरी महिला मुख्य न्यायाधीश को अलविदा कहा दिया। मुख्य न्यायाधीश-जस्टिस मंजुला चेल्लूर सोमवार को अपने पद से सेवानिवृत्त हो गई। उन्हे अगस्त २൦१६ में इस पद के लिए नियुक्त किया गया था। एक साल से भी अधिक का समय मुख्य न्यायाधीश के तौर पर देने के बाद सोमवार को उन्हे सेवानिवृत्त कर दिया गया।

नहीं बढ़ेगा मेट्रो का किराया !

मेट्रो से जूड़े फैसलो के लिए किया जाएगा याद

ऐसे कई फैसले है जिन्होने मंजुला चेल्लूर को एक यादगार न्यायाधीश बना दिया। सीजे ने विशेष रूप से मेट्रो III के विवाद से जुड़े मामले में कुछ महत्वपूर्ण फैसले दिए, जिससे मेट्रो III लाइन के लिए 3000 से अधिक पेड़ों को काटने की अनुमति मिल गई। उन्होंने सार्वजनिक भावना पर विकास की प्राथमिकता दी। उनकी पीठ ने ध्वनि प्रदुषण की शिकायतों और फायर सेफ्टी नियमों के उल्लंघन के लिए मेट्रो III के निर्माण कार्य पर रोक लगाई थी।


मुंबईकरों को २൦५२ तक भरना होगा बांद्रा वर्ली सी लिंक पर टोल


मेट्रो किराए की बढ़ोत्तरी पर भी लगाई रोक

हालही में बॉम्बे हाईकोर्ट ने मेट्रो के किराए के बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था और इस बाबज राज्य सरकार को एक समिती बनाने के लिए कहा है जो इस बारे में एक रिपोर्ट तीन महीनों में पेश करेगी।
कर्नाटक उच्च न्यायालय की पहली महिला न्यायाधीश

न्यायमूर्ति चेल्लूर का जन्म कर्नाटक के बेल्लारी में 5 दिसंबर 1955 को हुआ था। वह बेल्लारी की पहली महिला अधिवक्ता बनीं। इसके बाद कर्नाटक उच्च न्यायालय की पहली महिला न्यायाधीश भी बनीं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें