बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आम लोग भी आए आगे

शिवसेना के पूर्व नगरसेवक अभिषेक घोषालकर और मौजूदा नगरसेवक तेजस्वी घोषालकर ने आम लोगों से राहत सामग्री इकठ्ठा की

  • बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आम लोग भी आए आगे
SHARE

पश्चिमी महाराष्ट्र में आई बाढ़ के कारण लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है।  ऐसे में अब आम लोग भी बाढ़ प्रभावितों की सहायता के लिए आगे आने लगे है।  दहिसर शिव सेना शाखा क्रमांक 1 की ओर से राज्य में बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत सहायता निकाली गई। इस समय बड़ी संख्या में चादरें, कंबल, दूध पाउडर, दवाइयाँ, तौलिया, खाने की चीज़ें, अनाज के पैकेट और सेनेटरी नैपकिन जमा किए गए। स्थानिय लोगों ने अपने अपने हिसाब से बाढ़ पीड़ियों के लिए सामान दिया। शिवसेना पूर्व नगरसेवक अभिषेक घोसालकर  और मौजूदा नगरसेवक  तेजस्वी घोषालकर ने आम लोगों से राहत सामग्री जमा किया।   दहिसर (पश्चिम) साईबाबा नगर में रहनेवाली ताराबाई सखाराम रहाणे ने 4 नई साड़ी और आटे की गोनी दी। 


ताराबाई जैसे कई और लोगों ने मदद दी। डीमार्ट से घर का सामान खरिद कर बाहर रही एक महिला ने दो आटे की बोरी मदद के लिए दी। इस मदद अभियान में शिवसेना पूर्व नगरसेवक अभिषेक घोसालकर और मौजूदा नगरसेवक तेजस्वी घोषालकर के साथ साथ शकुंतला शेलार,शाखाप्रमुख राजेंद्र इंदुलकर, लालचंद पाल,चेतन परमार सहित शिवसेना का कई कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया।

एक महीने की सैलरी देने का फैसला

शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे के आदेश के बाद शिवसेना के सभी सांसद, विधायक और नगरसेवको ने एक महीने की सैलरी बाढ़ पीड़ितों को देने का एलान किया है।  इसके साथ ही शिवसेना कार्यकर्ताओं ने अलग अलग इलाको से राहत सामग्री इकठ्ठा कर बाढ़ पीड़ितों के मदद की भी कोशिश की है।

संबंधित विषय