Advertisement

तूफान के बाद BMC कर्मचारियों पर बढ़ा काम का बोझ, जनता को जल्द राहत के लिए नगरसेविका ने नियुक्त किये निजी ठेकेदार

वार्ड क्रमांक 1 की शिवसेना नगरसेविका तेजस्वी घोसालकर ने पेड़ो को जल्द हटाने के लिए अपने निजी कोष से ठेकेदार को नियुक्त किया है।

तूफान के बाद BMC कर्मचारियों पर बढ़ा काम का बोझ,  जनता को जल्द राहत के लिए नगरसेविका ने नियुक्त किये निजी ठेकेदार
SHARES

चक्रवात "तौकते" ने तबाही का ऐसा मंजर दिखाया कि पूरे मुंबई और आसपास के इलाकों में कई पेड़ गिर गए। पेड़ गिरने की घटनाओं के कारण लोगो को काफी नुकसान हुआ है। मुंबई में लगभग हर  वार्ड में पेड़ गिरने की कई घटनाएं हुए जिसके कारण बीएमसी कर्मचारियों पर फिलहाल पेड़ो को हटाने के काम का काफी दबाव है। बीएमसी में।मैनफोर्स, सामग्री और संसाधनों पर बहुत दबाव पड़ा है।  जिसे संज्ञान लेते हुए  वार्ड नंबर 1 की नगरसेविका तेजस्वी घोषालकर ने अपने निजी कोष से एक निजी ठेकेदार, एक जेसीबी और अन्य उपकरण, ट्रक और जनशक्ति से सड़कों पर पड़े पेड़ों को काटने की व्यवस्था की  है। 

पूर्व नगरसेवक अभिषेक घोसालकर ने कहा कि" हमारी टीम हमारे वार्ड के अलग-अलग क्षेत्रों में काम कर रही है, कटे हुए पेड़ों को इकट्ठा करके उन्हें जेन गार्डन के पास सड़क के छोर पर स्थानांतरित कर रही है,बीएमसी को इसके बारे में सूचित कर दिया गया है, और वे बाद में इसे वहां से ले लेंगे, चूंकि ऐसे कई पेड़ हैं जो काटे जा चुके हैं और उठाए जा रहे हैं, काम पूरा होने में 3 से 4 दिन लगेंगे" 

कुछ हाउसिंग सोसायटियों के अपने परिसर में पेड़, शाखाएं गिर गई हैं, जिन्हें बीएमसी के नियमों के अनुसार, बीएमसी को कुछ मामूली शुल्कों के साथ इसे एकत्र करने के लिए बीएमसी से अनुमति की आवश्यकता होती है।प्राकृतिक आपदा की असाधारण परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए, तेजस्वी घोसालकर  ने अपने व्यक्तिगत कोष से गिरती शाखाओं और पेड़ों को सोसाइटी से उठाने का काम कर रही है जो सोसाइटी के लिए  नि:शुल्क कार्य चल रहा है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें