बीएमसी ने तोड़ा 35 साल पुराना मंदिर

Mumbai
बीएमसी ने तोड़ा 35 साल पुराना मंदिर
बीएमसी ने तोड़ा 35 साल पुराना मंदिर
बीएमसी ने तोड़ा 35 साल पुराना मंदिर
बीएमसी ने तोड़ा 35 साल पुराना मंदिर
बीएमसी ने तोड़ा 35 साल पुराना मंदिर
See all
मुंबई  -  

भोइवाड़ा – सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अवैध रूप से बने धर्म स्थलों पर बीएमसी ने कार्रवाई शुरू कर दी है। इसी कड़ी में भोइवाड़ा में 35 साल पुराना जरीमरी मंदिर को बीएमसी ने तोड़ दिया। मंदिर ट्रस्टी की तरफ से बीएमसी को सभी कागजात दिखाए जाने के बाद भी बीएमसी ने हाई कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए जेसीबी मशीन की सहायता से मंदिर को जमींदोंज कर दिया। मंदिर को तोड़ते समय वहां के स्थानीय नागरिकों ने इसका काफी विरोध किया। इसीलिए मनपा की तरफ से किसी भी संभावित घटना से निपटने के लिए पुलिस बल की भी तैनाती की गयी थी।

लोगों की माने तो इस मंदिर का निर्माण सन 82 में किया गया था। और 86 में कमिटी बना कर मंदिर का रजिस्ट्रेशन कराया गया। इस विषय में मंदिर कमिटी के अध्यक्ष सुरेश मोरे ने मंदिर को अधिकृत बताते हुए कहा कि इस मंदिर के सभी कागज होने के बाद भी इसे कोर्ट के निर्णय का बहाना बना कर तोड़ दिया गया। इन्होने मंदिर तोड़े जाने के खिलाफ आन्दोलन करने की भी बात कही।

Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.