मुंबई लाइव इम्पैक्ट : दूषित बर्फ को लेकर एफडीए ने शुरू की कार्रवाई

 Mumbai
मुंबई लाइव इम्पैक्ट : दूषित बर्फ को लेकर एफडीए ने शुरू की कार्रवाई
मुंबई लाइव इम्पैक्ट : दूषित बर्फ को लेकर एफडीए ने शुरू की कार्रवाई
See all

मुंबई लाइव ने अपनी खबर के माध्यम से आपको बताया था कि एक तरफ जहाँ ठाणे में सैकड़ों हजारों किलो दूषित बर्फ मिली है तो वहीं मुंबई में एफडीए को कहीं भी दूषित बर्फ नहीं मिली। लेकिन पिछले तीन दिनों से बीएमसी ने ई-कोलाय वायरस से युक्त बर्फ के खिलाफ बड़े जोरशोर से मुहिम छेड़ी है। बीएमसी ने कई बर्फ कंपनियों और रास्तों में बेचने वाले ठंडे पेय बेचने वालों के पास से कई हजारों किलों बर्फ को नष्ट किया। अब एफडीए और बीएमसी में कौन अपन काम सही कर रहा है और कौन गलत इसका अंदाजा आप स्वयं लगा सकते हैं।

मुंबई लाइव की खबर का असर अब हुआ है। एफडीए भी कुम्भकर्णी नींद से जागते हुए अब दूषित बर्फ के खिलाफ मुहीम छेड़ दिया है। एफडीए के सहआयुक्त चन्द्रशेखर सालुंखे ने बताया कि सोमवार को की गई कर्रवाई में 898 दूषित बर्फ जप्त किए गये।

बीएमसी के आरोग्य विभाग ने अपनी जांच में पाया कि जिस खाने वाली दूषित बर्फ को स्टोरेज किया जाता है उससे गैस्ट्रो की बीमारी होती है। एफडीए ने भले ही इस मामले में लापरवाही बरती हो लेकिन बीएमसी ने एम/ पूर्व में अपनी कार्रवाई में लगभग 13 हजार दूषित बर्फ को नष्ट किया। एफडीए द्वारा सोमवार को की गयी कार्रवाई में 10 हजार किलो बर्फ नष्ट किया गया, जबकि यही एफडीए एक दिन पहले पूरे मुंबई में से मात्र 5 नमूने लेकर सब कुछ सही होने का दावा कर रही थी।

यह भी पढ़े : 13700 किलो बर्फ किया गया नष्ट, ऐसे करें दूषित बर्फ से अपना बचाव

मुंबई लाइव की खबर को देखते हुए एफडीए भी जागी और उसने सोमवार शाम और मंगलवार सुबह को कर्रवाई को अंजाम दिया। सालुंखे ने बताया कि इस कार्रवाई में 898 किलो दूषित बर्फ को नष्ट किया गया। जबकि ठाणे में एक दिन में 6600 किलो बर्फ को नष्ट किया गया था।

टीएमसी और ठाणे एफडीए ने अपनी कार्रवाई में एक दिन में एक हजार किलो बर्फ को नष्ट किया था। जबकि मुंबई एफडीए ने अपनी कार्रवाई में अभी तक एक हजार के आंकड़े पर नहीं पहुंची है। इतने बड़े शहर मुंबई में हर दिन हजारों टन बर्फ आती है। सैकड़ों टन दूषित बर्फ उपयोग में लाई जाती है बावजूद इसके एफडीए ने कार्रवाई में मात्र 898 टन दूषित बर्फ को ही नष्ट किया। आरटीआई एक्टिविस्ट आर.पी. वाय. राव ने कहा कि एफडीए इस मामले में लापरवाही कर रही है। राव ने कहा कि बीएमसी और एफडीए को ठाणे एफडीए और टीएमसी से कुछ सीखना चाहिए।

यह भी पढ़े : अगर आप हैं बर्फ खाने के शौकीन तो पढ़े यह रिपोर्ट!

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments