Advertisement

सेल्फी के चक्कर मे गई 5 लोगों की जान

पालघर जिले में स्थित जव्हार इलाके में रहने वाले 13 लोग पिकनिक मनाने कालमांडवी झरने में नहाने गए थे। लेकिन कुछ लोग सेल्फी लेने लगे और इसी दौरान उनका पैर फिसल गया और वे झरने में जा गिरे

सेल्फी के चक्कर मे गई 5 लोगों की जान
SHARES

मुंबई (mumbai) के करीब स्थित पालघर (palghar) जिले के जव्हार टाउन (jawahar town) इलाके में गुरुवार को उस समय हड़कंप मच गया जब 5 युवक सेल्फी (selfie) लेने के चक्कर में पानी मे डूब गए। 13 लोगों की टोली कालमांडवी झरने में नहाने गए थे। जिसमें से 5 हादसे का शिकार जो गए।

बताया जाता है कि पालघर जिले में स्थित जव्हार इलाके में रहने वाले 13 लोग पिकनिक मनाने कालमांडवी झरने में नहाने गए थे। लेकिन कुछ लोग सेल्फी लेने लगे और इसी दौरान उनका पैर फिसल गया और वे झरने में जा गिरे, गिरने के दौरान एक के बाद एक कुल 5 लोग झरने में गिर गए। बारिश में झरने के पानी का स्तर ऊंचा था, जिसके कारण पांचों युवक डूब गए।

 डूबने वालों की पहचान प्रथमेश चव्हाण (20), देवेंद्र वाघ (28), निमेष पटेल (28), देवेंद्र फलटनकर (19) और रिंकू भोईर (20) है।

मौके पर मौजूद एक चश्मदीद ने बताया कि, बारिश के पानी से यह झरना हर मानसून में तैयार होता है और आस पास के इलाके के लोग पिकनिक मनाने यहां आते हैं। सभी लड़के झरने के किनारे नहा रहे थे लेकिन कुछ लोग फिसलन की वजह से गहराई में चले गए और यह हादसा हुआ।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर मौके पर स्थानीय पुलिस और फायर ब्रिगेड के जवान सहित जिले के एसपी दत्तात्रेय शिंदे, जिलाधिकारी डॉ. कैलाश शिंदे और अन्य अधिकारी भी पहुंच गए।

काफी खोजबीन के बाद देर शाम तक 5 शवों को बाहर निकाला गया। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के प्रवक्ता सचिन नावडकर ने कहा कि,13 लोग उक्त झरना के पास घूमने गए थे, जहां 5 लोग की डूबने से मौत हो गई और सभी 5 शव को बरामद कर लिया गया है।

इस हादसे से इलाके में आक्रोश है, स्थानीय लोगों का कहना है कि जब लॉकडाउन लागू है और कहीं भी आवाजाही पर पाबंदी है तो ये लड़के अपने गांव से 7 किलोमीटर दूर जंगल के रास्ते झरने तक कैसे पहुंच गए, कोई इन्हें रोका क्यों नहीं?

संबंधित विषय
Advertisement