स्ट्रीट फ़ूड मामले में मुंबई ने हासिल की यह उपलब्धि, गुजरात के बाद मिला दूसरा स्थान

गिरगांव और जुहू चौपाटी के स्ट्रीट फ़ूड वालों ने स्वच्छता से लेकर खाने की पौष्टिकता तक सभी मानकों को पूरा किया, गुजरात के बाद अब भारत देश में महाराष्ट्र दूसरा ऐसा राज्य बन गया है जिसे 'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' का दर्जा प्राप्त हुआ है।

SHARE

गिरगांव और जुहू चौपाटी को 'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' का दर्जा दिया गया है। इस मौके पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिति में मंगलवार शाम 5:30 बजे गिरगांव में उद्घाटन कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।  

एक स्वच्छ परिवेश में खाद्य पदार्थों की क्वालिटी को बनाये रखते हुए ग्राहकों को पौष्टिक खाना परोसना ही 'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' की सबसे बड़ी शर्त होती है। पूरे देश में अगर कहीं भी स्थित स्ट्रीट फ़ूड इस तरह की शर्तों का पालन करता है तो उस स्थान को केंद्र सरकार द्वारा 'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' का दर्जा दिया जाता है। इन शर्तों को भी पूरा करते हुए गिरगांव और जुहू चौपाटी स्थित स्ट्रीट फ़ूड ने 'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' का दर्जा हासिल किया। इसके पहले गुजरात के अहमदाबाद स्थित कांकरिया लेक्ला देश का ऐसा पहला स्ट्रीट फ़ूड था जिसे  'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' का दर्जा दिया गया था।

गिरगांव और जुहू चौपाटी के स्ट्रीट फ़ूड वालों ने स्वच्छता से लेकर खाने की पौष्टिकता तक सभी मानकों को पूरा किया, गुजरात के बाद अब भारत देश में महाराष्ट्र दूसरा ऐसा राज्य बन गया है जिसे 'क्लीन स्ट्रीट फ़ूड हब' का दर्जा प्राप्त हुआ है।  

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें