क्या ज्यादा भीड़ पेग्विन के लिए खतरनाक है?

 Byculla
क्या ज्यादा भीड़ पेग्विन के लिए खतरनाक है?

मुंबई - बीएमसी ने 25 जुलाई 2016 को दक्षिण कोरिया से 8 हम्बोल्ट पेंग्विन मंगवाए थे। जिसके लिए बीएमसी ने 3 करोड़ रुपये खर्च किये थे। लेकिन कुछ ही महीनों के अंदर इनमें से एक पेंग्विन की मौत हो गई। जिसको लेकर बीएमसी को काफी आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा था।

पेंग्विन की अच्छी तरह से देखभाल करने के लिए बीएमसी नें 45 करोड़ रुपये खर्च कर 1700 स्क्वायर फूट का शीतघर तैयार किया है। इस शीतघर की खास बात ये है की इसका तापमान पेंग्विन के लिए अनुकूल रहता है। बीएमसी ने इन पेग्विन को पब्लिक को देखने के लिए रखा है। जिसपर की सामाजिक कार्यकर्ताओं ने आपत्ति जताई है।

प्लांट एंड एनिमल वेल्फेअर सोसायटी के सचिव सुनीश कुंजू का कहना है की लोगों की ज्यादा भीड़ देखर पेंग्विन डर सकते हैं। वह शांति प्रिय प्राणी हैं, और उन्हें ज्यादा शोर पसंद नहीं। 


"पेंग्विन काफी शांति प्रिय प्राणी होते हैं। उन्हें किसी भी तरह की आवाज परेशान कर सकती है। लिहाजा अगर लोगों के लिए पेंग्विन को रखा गया तो ये उनके लिए ठीक नहीं है"- सुनीश कुंजू ,सचिव, प्लांट एंड एनिमल वेल्फेअर सोसायटी 

हालांकि वीर जीजामाता प्राणी संग्रालय के अधीक्षक संजय त्रिपाठी ने इन आरोपों को सीधे खारिज किया है।


"पेंग्विन के लिए खास तरह का इंतजाम किया गया है। उनके लिए साउंड प्रुफ ग्लासेस लगाए गए हैं। जिससे बाहरी आवाज अंदर नहीं जाती है"- संजय त्रिपाठी, अधीक्षक, वीर जीजामाता प्राणी संग्रालय

वहीं नागरिकों का कहना है कि उन्हें पहली बार मुंबई में पेंग्विन देखने को मिल रहे है जो काफी उच्छा है।

Loading Comments