Advertisement

वर्सोवा के इस इलाके में 20 साल से नहीं आ रहा है पानी

समिति का कहना है कि इस बाबत हमने जिलाधिकारी को पत्र लिखा था लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. यही नहीं साल 2016 में बीएमसी मुख्यालय के सामने भी मोर्चा निकाला था, इसके बावजूद कोई काम आगे नहीं बढ़ा।

वर्सोवा के इस इलाके में 20 साल से नहीं आ रहा है पानी
SHARES

अभी कुछ दिन पहले मेट्रो (metro) काम के चलते पानी की सप्लाई (water supply) करने वाली पाइप लाइन फूट गयी थी, जिसके बाद विले पार्ले, अंधेरी, जोगेश्वरी वेस्ट, ओशिवारा सहित घाटकोपर और पवई में तीन दिनों तक पानी नहीं आया था। हालांकि बाद में बीएमसी (BMC) द्वारा मरम्मत का कार्य होने के बाद पानी की आपूर्ति पूर्ववत हुई, लेकिन वर्सोवा (VERSOVA) के सिद्धार्थ नगर में रहने वाले लोग आज 20 साल बाद भी पानी टैंकर से खरीदने के लिए वंचित हैं।

इस बात पानी हक समिति भी प्रयास कर रही है कि सिद्धार्थ नगर में रहने वाले लोगों के लिए बीएमसी पानी सप्लाई करे। यहां रहने वाले लोगों का कहना है कि बीएमसी को पाइप बिछाए काफी साल हो गये लेकिन उस पाइप में पानी के आने का इंतजार हम आज भी कर रहे है। 

यहां रहने वाले लोगों का कहना है कि हम यहां साल 2000 से ही रह रहे हैं। यहां पर कुल 750 परिवार रहते हैं, जबकि यहां की जनसंख्या कुल 3750 तक है। इतनी बड़ी संख्या में रहने के बावजूद आज तक यहां के लोगों के लिए पानी की कोई व्यवस्था नहीं की गयी, यहां के लोग टैंकरों से पानी खरदीने के लिए मजबूर हैं।

पढ़ें: मेट्रो काम के चलते पहले भी कई बार फूट चुकी है पानी की पाइप

समिति का कहना है कि इस बाबत हमने जिलाधिकारी को पत्र लिखा था लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. यही नहीं साल 2016 में बीएमसी मुख्यालय के सामने भी मोर्चा निकाला था, इसके बावजूद कोई काम आगे नहीं बढ़ा।

साल 2017 में बीएमसी ने एक जीआर निकाल कर इस बात की घोषणा की थी कि, बीएमसी अब सभी को पानी उपलब्ध कराएगी लेकिन उस पर भी अमल नहीं हुआ।

यहां के निवासी आज भी पाइप लाइन में बीएमसी का पानी आने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन उनका यह इंतजार कब खत्म होगा? इसका जवाब न तो बीएमसी अधिकारीयों के पास और न ही जनता के नुमाईन्दो के पास है। 

पढ़ें: अंधेरी और जोगेश्वरी सहित कई इलाकों में 3 दिन से पानी नहीं, कालाबाजारी करने वालों की चांदी

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement