कफ परेड में बंदरों का आतंक

मुंबई के कफ परेड ईलाके के लोग इन दिनों बंदरों के आतंक से डरे हुए हैं। कफ परेड स्थित शिवालय, मेकर टॉवर,लवली होमी, सायराना जैसे आसपास स्थित अन्य बिल्डिंग के लोग भी बंदरों से परेशान हैं। दरअसल ये बंदर खिड़की के रास्ते घरों में घुस कर मोबाइल फोन, हाथ घड़ी, जैसे अन्य कीमती सामान लेकर चंपत हो जाते हैं और लोग चाहकर भी कुछ नहीं कर पाते।

सायनारा बिल्डिंग में रहने वाली जलपा मर्चेंट का कहना है कि यह बंदर इतने चालक हैं कि खुद ही खिड़की खोल कर कब घरों में घुस जाते है घरवालों को इसकी भनक तक नहीं लगती। घर में घुस कर ये उत्पात तो मचाते ही हैं साथ ही घर का सामान भी लेकर भाग जाते हैं। चाहे किचन में रखा कुछ खाने का सामान हो या डायनिंग टेबल पर रखी कोई चमकीली वस्तु, इन बंदरों से कोई भी चीज नहीं बच सकती। यही नहीं इन बंदरों को कोई डराता भी है तो ये बंदर और भी आक्रामक हो जाते हैं। 11 वें फ्लोर पर रहने वाली मर्चेंट की माने तो पिछले 7 महीने से इन बंदरों का आतंक मचा हुआ है।

सायराना की लूसी डिसूजा आशंका जताते हुए कहती हैं कि इन बंदरों को प्रशिक्षण दिया हुआ है। स्थानीय लोगों ने इन बंदरों की शिकायत वन विभाग में की लेकिन वन विभाग ने इस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया। इस बारे में पेटा के जन संपर्क प्रमुख डॉ. मणिलाल ने कहा कि वन विभाग के अधिकारियों की मदद से इस समस्या से छुटकारा जल्द ही दिलाया जाएगा।

Loading Comments